उत्तरप्रदेश देश-विदेश

बुखार से 15 लोग हुए बीमार

बुखार से 15 लोग हुए बीमार

रिपोर्टर:-राहुल रत्न, बलरामपुर
मो:-8090547132

बलरामपुर जिले मे बाढ़ की त्रासदी के बाद प्रशासन के समक्ष संक्रमण बीमारियों से लड़ने की कड़ी चेतावनी है पानी घटने के साथ ही संक्रामक बीमारियां वापस आने लगी वही बलरामपुर जनपद में कई ऐसे गांव हैं की ठंड बुखार के चलते 15 से 20 लोग ठंड बुखार से पीड़ित हैं वही तो शिवपुर के बदलाव और बहनों बच्चे डायरिया से पीड़ित है स्वास्थ विभाग की ओर से दवाई ना मिलने से पीड़ित संयुक्त जिला चिकित्सालय के सर्जन डॉक्टर अरुण कुमार ने कहा कि हम सब लोग 24 घंटा ड्यूटी करते हैं और बाल में जो पीड़ित हैं जो ठंड से बुखार से पीड़ित है वह आकर दिखाएं लापरवाही ना बरतें निजी क्लीनिक पर ना दिखाएं सरकारी अस्पताल में जरूर दिखाएं।

स्वास्थ्य विभाग की पूरी टीम तेजी से बाढ़ में जो पीड़ित है उनके लिए टीम गठित करके उपचार के लिए लगा दी गई है बलरामपुर जनपद के ललिया के 1 गांव में जो ज्यादा बाढ़ प्रभावित गांव है वहां चारों तरफ पानी भरा है बलरामपुर जिले में कई गांव मे स्वास्थ विभाग की टीम जाकर लोगों को बलरामपुर में अत्यधिक वर्षा एवं बाढ़/जलभराव की गम्भीर स्थिति को देखते हुये इस समय वेक्टर जनित एवं संचारी रोगो (डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया एवं दिमागी बुखार ( जापानी इन्सेफेलाइटिस) आदि के प्रसार की सम्भावना को देखते हुये जनमानस से अनुरोध है कि इससे बचाव हेतु कृपया निम्नलिखित प्रयास करें घर के कूलर, गमलों, फ्रिज के पीछे की ट्रे व छत पर किसी भी प्रकार के कबाड़ या पात्र में पानी एकत्रित न होने दें क्योंकि इसमें डेंगू का मच्छर पनपता है।

ग्राम पंचायतों में जलभराव की नियमित निकासी करते रहें । रात में मच्छरदानी का प्रयोग करें। पूरी आस्तीन के कपड़े पहने। बुखार आने पर निकट के सरकारी चिकित्सालय में जांच / उपचार करायें। अपने आसपास साफ-सफाई रखें। पानी को उबाल कर ही पिये अथवा गांवों में स्वास्थ्य कार्यकर्ता द्वारा क्लोरीन की गोली वितरित की जा रही है। एक गोली 10 से 12 लीटर साफ पानी में घोलकर आधे घण्टे के बाद पीने के लिए उपयोग करे। दस्त की दशा में ओ०आर०एस० का एक पैक्ट एक लीटर पानी में घोलकर उपयोग करें। अधिक से अधिक लोगों तक यह सूचना प्रसारित करें।

ऐसे कई उपचार है जो स्वराज विभाग की टीम जानकारी दी और वही स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कहा कि संयुक्त जिला चिकित्सालय में पहुंचे और अपना तुरंत इलाज करवाएं, बलरामपुर जिले के कई ऐसे गांव हैं जहां ठंड बुखार से पीड़ित है कई गांव वालों के लोगों ने बताया कि गांव में कीटनाशक दवाओं का छिड़काव किया जा रहा है वही बलरामपुर के संयुक्त जिला चिकित्सालय के सर्जन अरुण कुमार ने बताया कि बाढ़ प्रभावित गांव में ब्लीचिंग पाउडर छिड़काव करें गांव में जो गंदगी फैली है खत्म हो जाएंगे।

About The Author

Related posts