बड़वानी जनसुनवाई में आये 45 आवेदन जिसमे कुछ का मोके पर ही निराकरण कराया एवं मांगो से सम्बंधित आवेदनों को सम्बंधित विभागों को जांच कर कार्यवाही की जाये

बड़वानी जनसुनवाई में आये 45 आवेदन जिसमे कुछ का मोके पर ही निराकरण कराया एवं मांगो से सम्बंधित आवेदनों को सम्बंधित विभागों को जांच कर कार्यवाही की जाये

कबीर मिशन समाचार बड़वानी

बड़वानी 26 जुलाई 2022/मंगलवार को हुई जनसुनवाई में कलेक्टर श्री शिवराजसिंह वर्मा ने 45 आवेदकों को व्यक्तिगत रूप से सुना तथा मौके पर ही हो सकने वाली समस्याओं का निराकरण कराया। जबकि मांगो से संबंधित आवेदनों को संबंधित विभागों को भेजकर परीक्षण कराने एवं उपयुक्त पाये जाने पर उसे आगामी कार्य योजना में सम्मलित करने के भी निर्देश निर्माण एजेंसियो के पदाधिकारियो को दिये।


कलेक्टर ने जनसुनवाई में ही करवाया किसान का ईकेवायसी
जनसुनवाई में ग्राम रेहगुन निवासी मंशाराम पिता रामसिंग ने आवेदन देकर बताया कि उनका नाम शासकीय रिकार्ड में दर्ज होकर उनके नाम से पावती भी बनी हुई है। परन्तु उन्हे प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की राशि का लाभ नही मिल रहा है। इस पर कलेक्टर श्री शिवराजसिंह वर्मा ने जनसुनवाई में उपस्थित भू-अभिलेख के अधीक्षक को निर्देशित किया कि वे चेक करे कि किसान को राशि क्यो नही मिल रही है। इस पर अधीक्षक ने बताया कि किसान का ईकेवासयी नही होने से उन्हे राशि नही मिल रही है। इस पर कलेक्टर ने जनसुनवाई मंे ही किसान का ईकेवायसी करवा कर उसे बताया कि अब उन्हे प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री किसान सम्मान निधि की राशि अब मिलने लगेगी।


बनवाया जाये नाति का जाति प्रमाण पत्र
जनसुनवाई में बड़वानी निवासी देवलीबाई यादव ने आवेदन देकर बताया कि उनकी पुत्री का अपने पति से वर्ष 2008 में तलाक हो गया था। तलाक के बाद उनकी पुत्री ने पुर्नविवाह कर लिया। तलाक के बाद से उनका नाती 2 वर्षीय पुत्र मास्टर मिहिर यादव उनके पास ही रह रहा है। वर्तमान में मिहिर 15 वर्ष का हो चुका है, उसके जाति प्रमाण पत्र हेतु जब उन्होने लोक सेवा केन्द्र पर आवेदन दिया तो पिता का जाति प्रमाण पत्र नहीं होने आवेदन निरस्त हो गया । उन्होने मिहिर के पिता के संबंध में कोई जानकारी नहीं है। अतः उनके नाति का जाति प्रमाण पत्र बनवाया जाये । इस पर जनसुनवाई कर रहे कलेक्टर श्री शिवराजसिंह वर्मा ने आवेदन में एसडीएम बड़वानी को उक्त प्रकरण में निरीक्षण कर जाति प्रमाण पत्र बनाने हेतु निर्देशित किया ।


फसल व ड्रीप का दिलवाया जाये मुआवजा
जनसुनवाई में ग्राम मदरानिया निवासी श्री महेन्द्र यादव ने आवेदन देकर बताया कि उनकी कृषि भूमि पर कपास व मक्का की फसल बोई थी। उनके खेत में से नागलवाड़ी सिंचाई परियोजना की पाइर्प लाइन नाला क्रास कर गुजर रही है। पाइप लाइन क्षतिग्रस्त होने से नाले का पानी उनके खेत में घुस गया। जिसके कारण उनके खेत में लगी फसल बह गई । अतः उनकी फसल व ड्रीप का मुआवजा दिलवाया जाये । इस पर जनसुनवाई कर रहे कलेक्टर श्री शिवराजसिंह वर्मा ने नागलवाड़ी उद्वहन सिंचाई के कार्यपालन यंत्री श्री टटवाल को आवेदन में उचित निराकरण करने हेतु निर्देशित किया ।


दम्पत्ति को मिलने लगे पुनः पेंशन
जनसुनवाई में बड़वानी निवासी श्री गणपत पिता किशनदास ने आवेदन देकर बताया कि उन्हे व उनकी पत्नि श्रीमति मनोरमा को वृ़द्धावस्था पेंशन मिलती थी। परन्तु विगत 9 माह से उन दोनों को वृद्धावस्था पेंशन नही मिल रही है। अतः उन्हे व उनकी पत्नि को वृद्धावस्था पेंशन दिलवाई जाये। इस पर जनसुनवाई कर रहे कलेक्टर श्री शिवराजसिंह वर्मा ने जनसुनवाई में उपस्थित नगर पालिका सीएमओ को निर्देशित किया कि वे स्वयं जांच करे कि पेंशन क्यो नही मिल रही है। साथ ही दम्पत्ति को शीघ्र ही पेंशन प्रारंभ करवाने हेतु निर्देशित किया।


स्कूल से दिलवाई जाये मार्कशीट व माइग्रेशन
जनसुनवाई में ग्राम तलवाड़ा बुजुर्ग निवासी कुमारी प्रिया अगलचा ने आवेदन देकर बताया कि वे अंजड़ के पयोनियर पब्लिक स्कूल अंजड़ में कक्षा 5वीं से 12 वीं तक अध्ययनरत रही। परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नही होने से उनके पिताजी कक्षा 10वीं में ही शाला से उनका दाखिला निकालना चाहते थे। परन्तु शाला संचालकों द्वारा पिताजी को उस समय मौखिक रूप से यह कहा गया कि आपकी बेटी खेल गतिविधियों में बहुत होशियान होने के कारण उसे हम उसे स्पोर्टस कोटा में पढ़ायेंगे। परन्तु अब कक्षा 12वीं उत्तीर्ण होने के बाद जब वे मार्कशीट व माइग्रेशन लेने गये तो स्कूल वालों ने उनके पिता से फीस की मांग कर मार्कशीट व माइग्रेशन नही दिया। जिससे उनका अन्य तकनीकी संस्था में प्रवेश नही हो रहा है। इस पर जनसुनवाई कर रहे कलेक्टर श्री शिवराजसिंह वर्मा ने डीपीसी को प्रकरण में निराकरण कर मार्कशीट व माइग्रेशन दिलवाने के निर्देश दिये।