सीहोर

बीसूखेड़ी में मनाया गया बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर जी का 67वा महापरिनिर्वाण दिवस

बीसूखेड़ी में मनाया गया बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर जी का 67वा महापरिनिर्वाण दिवस

कबीर मिशन समाचार सीहोर

बीसुखेड़ी से संजय सोलंकी 9691163969 की रिपोर्ट।

आज 6 नवंबर को संपूर्ण विश्व में भारत रत्न बाबा साहब डॉक्टर भीमराव आंबेडकर जी का 67वा महापरिनिर्वाण दिवस मनाया जा रहा है ऐसे ही सीहोर जिले के जावर तहसील के ग्राम बीसुखेड़ी में भी बाबा साहब का महापरिनिर्वाण दिवस मनाकर बाबा साहब अम्बेडकर जी को नमन किया इस मौके पर गांव के अनेक युवाओं ने अपने विचार व्यक्त किए, सामाजिक कार्यकर्ता सुमित परमार ने बताया की डॉक्टर साहब भीमराव आंबेडकर जी का 67वा महापरिनिर्वाण पूरे विश्वस्तर पर मनाकर बाबा साहब को याद किया जा रहा है

,

आगे कहा की बाबा साहब ने आजीवन वंचित शोषित, पीड़ितों की लड़ाई लड़ी तथा देश के आखिरी छोर पर खडे व्यक्ति को सम्मान दिलाने वाले व्यक्तित्व का नाम है बाबा साहब ने कहा हे की जीवन लंबा होने जगह महान होना चाहिए,सशक्तिकरण के नायक बाबा साहेब हर वर्ग की महिलाओं को अपने पिता की संप्पति में समान हक दिया बाबा साहब हमेशा किसी भी समाज की उन्नति समाज की महिलाओकी उन्नति के रूप में मानते थे,जब तक महिलाए पुरुषो के बराबर नही आ जाति तब तक उनकी दिशा निर्धारित नही की जा सकती बाबा साहब ने समय समय पर समाज को एक नई दिशा प्रदान की ओर उन्होंने कहा की हमे शिक्षित संगठित और संघर्ष करते रहना चाहिए, आज हम जो भी परिवर्तन देख रहे हैं

,

वहां सब बाबा साहब के संविधान की बदौलत है अगर बाबा साहब नहीं होते और संविधान नहीं लिखते तो आज हमारी हालात कुछ और होती बाबा साहब ने समस्त समाज धर्म के लिए हमेशा संघर्ष किया है इस मौके पर, कृष्णपाल सोलंकी, पप्पू परमार, बिजेंद्र पोरवाल , चेतन परमार, राहुल पोलाया, सचिन परमार, संतोष सोलंकी, अंकित पोरवाल, अर्जुन सोलंकी, जोगन चौहान, हमीरसिंह, जितेंद्र परमार, कृपाल परमार, इंद्र परमार, और सैकड़ो की संख्या में ग्रामीण उपस्थित रहे।

About The Author

Related posts