उत्तरप्रदेश देश-विदेश

दुर्गा पूजा में नेबुआ राय गंज में बन रहा है भव्य और आकर्षक दुर्गा पूजा का पंडाल।

दुर्गा पूजा में नेबुआ राय गंज में बन रहा है भव्य और आकर्षक दुर्गा पूजा का पंडाल।

मेले में मीना बाजार, खेल तमाशे और झूले बनेंगे आकर्षण का केन्द्र।

जिला ब्यूरो चीफ योगेश गोविन्द राव कबीर मिशन समाचार पत्र कुशीनगर उत्तर प्रदेश।

दुर्गा पूजा शारदीय नवरात्रि उत्सव को लेकर नेबुआ नौरंगिया थानाक्षेत्र के नेबुआ बाजार में दुर्गा पूजा पंडाल का निर्माण जोर-जोर से चल रहा है। इस वर्ष का पंडाल ओडिशा के भद्रक में स्थित भद्रकाली मंदिर के तर्ज पर इसे बनाया जा रहा है। इस पंडाल की लम्बाई 45 फुट, चौड़ाई 40 फुट और ऊंचाई 70 फुट होगी। अनुमानित करीब 5 लाख रुपये की लागत से इस पंडाल निर्माण हो रहा हैं। जो जनसहयोग से इसका पूर्ण रूप दिया जाएगा।

,

5 गुम्बद और दो गुफाओ से सुसज्जित इस विशाल पंडाल में शारदीय नवरात्रि के अवसर पर नौ देवी और देवताओं की मूर्तियो का स्थापना किया जाएगा। इस पंडाल में करीब 800सौ बांस, छोटी बड़ी 3कुंतल कांटी, 300 सौ फीट लकड़ी और हजारो घन मीटर कपड़ो से इसका निर्माण होगा। मुख्य कारीगर नगर पंचायत खड्डा शहर के रहने वाले राकेश कुमार और उनके आठ सदस्यी टीम के द्वारा लगभग एक महीने से पंडाल बनाने में जी जान से लगे हुए हैं, जो इस सप्ताह के अंत तक पूर्ण रूप ले लेगा। इस पंडाल को लाइट एंड साउंड सिस्टम के द्वारा भव्य रूप से भी सजाया जाएगा। वही लगने वाले मेले में मीना बाजार, छोटे बड़े झूले, मिठाईया, खिलौने और गुब्बारे आदि के दुकाने इसको और आकर्षक बनायेगे।

,


बताते चले कि स्थानीय गांव निवासी नागेन्द्र मिश्रा, व्यास वर्मा, शैलेस वर्मा, डॉ० विजय प्रकाश गुप्ता, दिनेश सिंह, मनमोहन वर्मा, प्रह्लाद सिंह और अनिरुद्ध सिंह आदि ने बताया कि नेबुआ राय गंज के बाजार में पचासों वर्षो पूर्व से शारदीय नवरात्रि में हर वर्ष माँ दुर्गा की प्रतिमा का स्थापना पूर्ण विधि विधान से किया जाता है। जिसके मेले में क्षेत्रीय लोगो के अलावा दूर दराज के क्षेत्रों से भी हजारो लोग अपने निजी सवारी या सवारी वाहन से आते है। दुर्गा पूजा आयोजक समिति के बृजेश पाल, सतेन्द्र पाल, गौतम मद्धेशिया, सूदन भारती, मनीष वर्मा और विपिन गुप्ता आदि ने बताया कि पुरुषों और महिलाओं के आने जाने और दर्शन करने के लिए अलग अलग कतारे बनाये गए है। जिससे किसी भी श्रद्धालु को पूजा पाठ या माता रानी का दर्शन करने में किसी भी प्रकार की परेशानी न हो। वही सुरक्षा के लिए स्थानीय पुलिसकर्मियों का भी सहयोग लिया जाएगा।

About The Author

Related posts