कर्नाटक मे धर्म का घिनोना खेल, दलित महिला ने पानी पिया तो गोमूत्र से कराया टंकी को शुद्ध।

मामला कर्नाटक से सामने आया, सम्बंधित पर केस दर्ज।

कबीर मिशन सामाचार। राजकुमार स्टेट रिपोर्टर मप्र 7089513598

कर्नाटक – बेंगलूर | मामला बेंगलूर का है जहां एक दलित महिला ने पानी कि टंकी से पानी पी लिया तो उक्त टंकी को गोमूत्र से शुद्ध कराया गया।

आजकल कई नेता अपने भाषण मे स्पष्ट करते है कि जाति भेदभाव खत्म हो चुका है, परंतु ऐसी घटनाये देखने के बाद पता चलता है कि भाषण देने वालो ने कभी देश- प्रदेश मे या तो भ्रमण नहीं किया या फिर केवल चुनावी दौर मे केवल झूठ मुठ का भाषण करते है।

साथ हि ऐसी घटनाओ मे कोई कार्यवाही भी नहीं होती कुछ समय तो जांच चलती है, फिर कुछ लोग गिरफ्तार होते है फिर अचानक पता भी नहीं चलता कि कब वो बेकसूर हो जाते है और बरी कर दिए जाते है।

ऐसा हि मामला कर्नाटक के बेंगलूर का सामने आया जहां चामराजनगर जिले के एक गाँव मे शादी समारोह मे आयी महिला ने, प्यास लगने पर पानी कि टंकी से पानी पिया, जब पानी पी रही थी तब आरोपी ने उसे यह कहकर रोकने कि कोशिश कि कि यह ब्राम्हणो कि गली है। बाद मे उसने व अन्य ब्राम्हण समाज जन ने टंकी का शुद्धिकरण गोमूत्र से कि गई।

पुलिस ने हेग्गोधारा गाँव निवासी महादेवप्पा के खिलाफ केस दर्ज किया है, पुलिस ने यह कार्यवाही उसी गाँव के गिरियप्पा द्वारा कि गई शिकायत के बाद कि गई।
उक्त लोगो द्वारा टंकी साफ करते हुए विडीयो सामने आया, विडीयो सामने आते हि पुलिस ने मौके का दौरा किया और जानकारी एकत्र कर तहसीलदार को रिपोर्ट सौंपी।

अब देखना यह है कि उक्त आरोपी को सजा होगी दंड मिलेगा या फिर कुछ समय बाद वो हर बार कि तरह बेकसूर होकर बरी

kabirmission.com जो रखे आपको आगे।