देवास

अमलतास विश्वविद्यालय डिफॉल्टर लिस्ट से बाहर

अमलतास विश्वविद्यालय डिफॉल्टर लिस्ट से बाहर

देवास: विश्वविद्यालय अनुदान आयोग नई दिल्ली द्वारा अमलतास को डिफॉल्टर की लिस्ट से हटा दिया गया है। अमलतास द्वारा दो महीने पहले दिनाँक 16 अप्रैल, 2024 के अधिसूचना द्वारा डॉ. सतीश कुमार गुप्ता, पूर्व अधिष्ठाता जलगाँव चिकित्सा महाविद्यालय को अमलतास विश्वविद्यालय ने तीन साल के लिए नियुक्त किया है। इस संबंध में, विश्वविद्यालय अनुदान संस्थान को भी मेल द्वारा सूचित किया गया था, किन्तु कुछ तकनिकी त्रुटी वश 1 जून, 2024 को सूचि में नाम समाविष्ट था। अब यह त्रुटी में सुधार करके 2 जुलाई, 2024 के राजपत्र क्रमांक एफ 1-13l2022 (सीपीपी-II) विश्वविद्यालय अनुदान संस्थान द्वारा नवीन सूची जारी की गई, जिसमें अमलतास विश्वविद्यालय का नाम हटा दिया गया।
अमलतास विश्वविद्यालय के चेयरमैन श्री मयंक सिंह भदौरिया जी ने बताया कि दुर्भाग्यपूर्ण अमलतास विश्वविद्यालय का नाम डिफॉल्टर सूची में आना पूरे विश्वविद्यालय के लिए आश्चर्यजनक था। हालाँकि, अब तकनिकी त्रुटी में सुधार कर स्पष्ट कर दिया गया है। इस सुधार से विश्वविद्यालय की प्रतिष्ठा बहाल हो गई है और अब सभी शैक्षिक और प्रशासनिक गतिविधियाँ सामान्य और सुचारु रूप से चल रही हैं। विश्वविद्यालय के कुलगुरु डॉ. शरद चन्द्र वानखेड़े ने कहा कि सत्र 2024 बेच के लिए विद्यार्थी अब निःसंकोच प्रवेश ले सकेंगे।

About The Author

Related posts