उत्तरप्रदेश

कुशीनगर जिले में घर पर मकान बेचने का पोस्टर चस्पा करने पर माहौल बिगाड़ने की कोशिश

कुशीनगर जिले में घर पर मकान बेचने का पोस्टर चस्पा करने पर माहौल बिगाड़ने की कोशिश

कबीर मिशन समाचार/ कप्तानगंज कुशीनगर,

रिपोर्टर,

योगेश गोविन्दराव,

तहसील संवाददाता रामकोला,

कुशीनगर। थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत सपहा टोला दहाउर में दलित हिंदुओं द्वारा घर बेचकर गांव छोड़ने की पोस्टर लगाने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई,जिसकी जानकारी होने के बाद प्रशासन सकते में आ गया।बताते चलें कि रामकोला थाने के ग्राम पंचायत सपहा टोला दहाउर में लगभग 20 घरों के दलित परिवार निवास करते हैं, अगस्त माह के 16 तारीख को प्रधान प्रतिनिधि जल नल योजना के तहत उस टोले पर हरिजन आबादी के लिए आरक्षित जमीन पर पानी की टंकी लगवाने के लिए दलितों की झोपड़ी पर बुलडोजर चलवा दिया था।

पीड़ित परिवार का आरोप है कि प्रधान प्रतिनिधि के उत्पीड़न से हम लोग आजिज हैं प्रधान प्रतिनिधि और उसके गुंडे हम लोगो को घर उजड़वा दिए तथा एक दलित महिला को उसके घर में ही जला कर मारने का प्रयास जिसका इलाज जिला अस्पताल से चला है। व उसके गुंडे द्वारा जान से मारने धमकी दी ज रही है।अचानक सोमवार को ग्राम पंचायत सपहा टोला दहाउर के 20 घरों के दलित हिन्दू अपने घरों पर यह घर बिकाऊ है:- “प्रधान प्रतिनिधि महफूज खान के अत्याचार एवं षड्यंत्र से आजिज़ आकर गांव छोड़ने पर मजबूर है”का पोस्टर लगा दिया ।

पोस्टर की सूचना होते ही प्रसाशन में अफरा तफरी मच गई उप जिलाधिकारी रत्निका श्रीवास्तव थाना अध्यक्ष रामकोला के साथ गांव में जाकर पीड़ित परिवारों से मिली और कार्यवाही का आश्वासन दिया।मंगलवार को अपर जिलाधिकारी देवी दयाल वर्मा,अपर पुलिस अधीक्षक रितेश कुमार सिंह सपहा पहुच कर दलित परिवारों से मिला,उसके बाद जिलाधिकारी यस राज लिंगम और पुलिस अधीक्षक धवल जायसवाल भी सपहा टोला दहाउर जा कर पीड़ित परिवारों एवं जलने से घायल महिला से मिल कर बात चीत किया और कार्यवाही का आस्वाशन दिया।

जिलाधिकारी ने कहा कि हरिजन आबादी के लिए आरक्षित जमीन पर कोई निर्माण नही हो सकता ,प्रसात्वित परियोजना के लिए सुटेबल जमीन देखी जा रही है,फील हाल इस मामले की जांच करके दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

About The Author

Related posts