उज्जैन क्राइम देश-विदेश

आशा कार्यकर्ता ने पारिवारिक विवाद में पति और जेठ को गोली दोनों की मौत, राउंड खत्म नहीं होता तो और गिरती लाशें

आशा कार्यकर्ता ने पारिवारिक विवाद में पति और जेठ को गोली दोनों की मौत, राउंड खत्म नहीं होता तो और गिरती लाशें

उज्जैन। उज्जैन की बड़नगर तहसील के इंगोरिया में दिल दहलाने वाली वारदात हो गई है। यहां दो साल से चल रहे पारिवारिक विवाद के चलते महिला ने पिस्टल से पति और जेठ को गोली मार दी। पिस्टल में कारतूस खत्म हो गई वरना और भी लाशें गिर सकती थीं।

मिली जानकारी के अनुसार सोमवार सुबह 10 बजे की यह वारदात हुई है। इंगोरिया में रहने वाली आशा कार्यकर्ता सविता कुमारिया ने पति राधेश्याम और जेठ धीरज उर्फ दिनेश की गोली मारकर हत्या कर दी।प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि महिला ने परिवार के अन्य सदस्यों पर भी हमले का प्रयास किया था लेकिन पिस्टल में राउंड खत्म हो गए। आरोपी आशा कार्यकर्ता ने ताबड़तोड़ फायरिंग की। गोली लगने के बाद राधेश्याम की घटना स्थल पर ही मौत हो गई।

जेठ भी गश खाकर गिर गया। हत्या करने के बाद महिला पिस्टल लेकर इंगोरिया थाने पहुंची और पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया। पुलिस मामले में जांच कर रही है। बताया जाता है कि तीन चार महीने पहले भी परिवार में विवाद हुआ था। दो तीन साल से विवाद चला आ रहा है। महिला के दो बच्चे है। बड़ी बेटी करीब 18 और बेटा 15 वर्ष का हैं। घटना के बाद इंगोरिया में सनसनी फ़ैल गई। पुलिस मामले में जांच कर रही है।

About The Author

Related posts