बालोद। प्रेमी-प्रेमिका ताउम्र एक-दूजे के होना चाहते थे, प्यार के दुश्मन बने परिजन दोनों ने जहर खाकर दे दी अपनी जान।

बालोद छत्तीसगढ़। कबीर मिशन समाचार

बालोद। प्रेम-विवाह करने वालों को ये दुनिया हिकारत की नजर से देखती है। जब कोई लव मैरिज करने की बात करते हैं तो उसके घर वाले विरोध करना शुरू कर देते हैं। ऐसे में इश्क करने वले मजबूर होकर मौत को गले लगा लेते हैं। ऐसा ही एक और मामला सामने आया है। बालोद जिले में प्रेमी-प्रेमिका ताउम्र एक-दूजे के होना चाहते थे। लेकिन उनके घर वालों ने विरोध किया तो दोनों ने जहर खाकर जान दे दी।

बालोद जिले में प्रेमी जोड़े ने कोल्ड ड्रिंक में जहर मिलाकर सेवन कर लिया जिससे दोनों की मौत हो गई। घटना महामाया थाना क्षेत्र की है जहां आडेझर गांव में महामाया से आते वक्त घुसने के मार्ग में 100 मीटर दूर जंगल मे देर शाम दोनों की लाश देखी गई। जिसके बाद घटना की सूचना महामाया पुलिस को दी गई दोनों के पास से पुलिस ने दो मोबाइल जप्त कर जांच कर रही है। जानकारी के अनुसार मृतक युवक का नाम राहुल बताया जा रहा है जिसकी उम्र 22 वर्ष है। जो मोहला थाना क्षेत्र के भीमपुरी गांव का रहने वाला है। वहीं मृतिका संध्या किरंगे पिता हिरालाल किरंगे 21 कलचुवा थाना मोहला की बताई जा रही है। मामला प्रेम-प्रसंग से जुड़ा हुआ है।

जानकारी के अनुसार दोनों युवक युवती एक-दूसरे से प्यार करते थे और घर से भागकर भी चले गए थे। जिसके बाद परिजनों ने उनको शादी से इनकार कर दिया उसके बाद दोनों ने जहर खाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर दी। शनिवार को परिजनों ने युवती की गुमशुदगी की रिपोर्ट मोहला थाने में कि थी। सूचना के अनुसार युवती घर से कहीं चली गई थी। जिसकी सूचना पुलिस को परिजनों ने दी। जिसके बाद पुलिस ने छानबीन करना शुरू कर दिया था। तो पता चला कि रविवार को युवक और युवती थाने आने वाले थे।

लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ और दोनों ने बालोद जिले पहुंच आत्महत्या कर ली। वहीं बालोद एसपी जीतेंद्र यादव ने बताया कि मुझे ऐसा प्रतीत होता है कि दोनों ने सुसाइड किया है। इन्वेस्टिगेशन की जा रही है।