खरगोन

बामंदी कें उल्टी दस्त का आउटब्रेक होने पर लगाया शिविर किया उपचार

बामंदी कें उल्टी दस्त का आउटब्रेक होने पर लगाया शिविर किया उपचार

बामंदी कें उल्टी दस्त का आउटब्रेक होने पर लगाया शिविर किया उपचार

खरगोन 25 नवंबर 2022। कसरावद जनपद के ग्राम बामंदी में उल्टी दस्त का 23 नवंबर को आउटब्रेक होने की जानकारी के बाद एपिडेमियोलोजिकल एवं इनवायरमेंटल इन्वेस्टीगेशन जिला एपिडेमियोलोजिस्ट, रैपिड रेस्पोंस टीम एवं ब्लॉक कॉम्बैट टीम ने शिविर लगाया गया। शुक्रवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. डीएस चौहान, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. चन्द्रजीत सांवले, जिला एपिडेमियोलॉजिस्ट डॉ. रेवाराम कौशले, जिला कम्युनिटी मोबिलाईजर धीरज गुप्ता द्वारा प्रभावित ग्राम का दौरा किया गया। ग्राम सरपंच के साथ जल स्त्रोत कुआँ, ट्यूवेळ, पानी की बड़ी टंकी एवं पाईपलाइन का निरिक्षण किया गया। स्थानीय स्वास्थ्य कर्मचारियों द्वारा घर-घर स्वास्थ्य सर्वे करते हुए क्लोरीन टेबलेट और ओआरएस का वितरण किया गया। साथ ही समुदाय के बीच स्वास्थ्य शिक्षा दी गयी। चिकित्सा अधिकारी एवं सहयोगी पैरामेडिकल कर्मचारियों की ड्यूटी लगाते हुए चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। चिकित्सा शिविर में 23 नवंबर को कुल 35 एवं 24 नवंबर को कुल 40 उल्टी दस्त के मरीज पाए गए जिनका लक्षणिक उपचार प्रबंधन किया गया। कुए के पास पाईपलाइन लीकेज होने के कारण दूषित जल कुए में ही मिलना तथा पाईप लाइन में 4-5 स्थानों पर लिकैज के कारण दूषित जल का पेयजल में मिश्रित होना सम्भवतः आउटब्रेक का कारण हो सकता है। ग्राम सरपंच को पाईपलाइन लीकेज दुरुस्त करने तथा कुएं में दूषित जल मिश्रित न होने संबधित सलाह दी गई। आगामी 7 दिवस तक वर्तमान जल का पेयजल के रूप में उपयोग न करने कि सलाह दी गई। कोलेरा/ अन्य माइक्रो ओर्गेनिज्म कि जाँच के लिए 10 स्टूल सेम्पल जिला पब्लिक हेल्थ लेबोरेटरी पीसी सेट्टी हॉस्पिटल इंदौर भेजे गए है। लोक स्वास्थ्य एवं यांत्रिकी विभाग द्वारा 8 पानी के सैंपल जाँच के लिये लिए गए है। वर्तमान में आउटब्रेक नियंत्रण में है तथा प्रतिबंधात्मक कार्यवाही जारी है।

About The Author

Related posts