सतना

भू-माफियाओं के विरोध में भीम आर्मी ने मैहर थाना व एसडीएम कार्यालय का घेराव कर सौंपा ज्ञापन

भू-माफियाओं के विरोध में भीम आर्मी ने मैहर थाना व एसडीएम कार्यालय का घेराव कर सौंपा ज्ञापन

मैहर – संवाददाता अनिल कुशवाहा

दिनांक- 08/09/23

मैहर में भीम आर्मी व आजाद समाज पार्टी विधानसभा कमेटी मैहर के तत्त्वाधान में भू-माफियाओं के लगातार बढ़ रहे आतंक के विरोध में भीम आर्मी ने किया बड़ा प्रदर्शन। विदित हो की मैहर विधानसभा में भू-माफियाओं द्वारा लगातार पहाड़ी क्षेत्र की जमीनों का अवैधानिक तरीके से अतिक्रमण किया जा रहा है जिसमें दर्जन भर आदिवासियों दलितों एवं पिछड़ा वर्ग के 1 दर्जन से अधिक लोगों का मकान गिराकर उनकी जमीनें हथियाने का काम धड़ल्ले से कार्य चल रहा है ऐसा ही एक मामला ग्राम पंचायत चौपड़ा के ग्राम सगमनिया का आया है जहां दिनांक 26.8.2023 को आरोपी अजय पाण्डेय, आलोक पाण्डेय , अजय पयासी, अखिलेश सिंह (नाकेदार), घनश्यामदास कचेर (बीट गार्ड), उत्तम प्रजापति (पुलिसकर्मी) , राजेन्द्र प्रसाद तिवारी (रेंजर) आदि एकमत होकर ग्राम पंचायत चौपड़ा के ग्राम सगमनिया में 1 दर्जन से अधिक लोगों का मकान अवैध रूप से बिना किसी प्रशासनिक आदेश व राजस्व अधिकारियों की मौजूदगी पर जबरन जेसीबी लगा के गिरा दिया साथ ही उनकी जमीन पर अवैध अतिक्रमण कर हथियाने का प्रयास कर रहे हैं

जिसके चलते भू-माफियाओं पर कड़ी कानूनी कार्यवाही किए जाने की मांग को लेकर शुक्रवार को भीम आर्मी ने ग्रामीणों के साथ मैहर थाने में पीड़ित महिलाओं के ऊपर हुई मारपीट, के विरुद्ध एसडीओपी मैहर को आवेदन दिया तत्पश्चात वहा से जनाक्रोश प्रदर्शन करते हुए एसडीएम कार्यालय पहुंचे जहां भीम आर्मी ने अवगत कराया कि ग्राम सगमनिया में सभी आरोपियों ने मिलीभगत से मजदूरी कर पहाड़ी क्षेत्र में ही अपना जीवन यापन करने वाले प्रार्थीया रोशनी साकेत, रणजीत सिंह गोंड, सुल्तान सिंह गोंड , तोषण पटेल, भोला सिंह गोंड ,आशीष सिंह गोंड, बिहारी सिंह गोंड, राम सिंह गोंड ,देवराज सिंह ,शिवकुमार साकेत, सविता साकेत ,बद्री प्रसाद पटेल, आदि कई लोगों के घर बिना किसी नोटिस के बिना प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में भू-माफियाओं द्वारा जबरन गिरा दिया गया प्रदेश सचिव सिध्दार्थ नालंदा ने कहा कि विदित हो ये सभी आरोपी पहले प्रार्थियों से पांच से दस हजार रुपए पैसे की मांग कर रहे थे पैसा नहीं देने पर आरोपियों द्वारा प्रार्थियों का घर गिरा दिया गया

विदित हो कि सभी प्रार्थियोंं ने तहसीलदार द्वारा किए गए जुर्माने भी भरे हैं जिनकी रसीदें भी उनके पास उपलब्ध हैं इसके साथ ही रविशंकर पयासी का मकान एवं संदीप पाण्डेय का मकान भी उसी जमीन पर बन रहा है जिस जमीन को जंगल विभाग की जमीन बताकर आरोपियों द्वारा ग्रामीणों के घर गिरा दिये गये एवं उनके जमीनों पर अवैध कब्जा किया जा रहा है ग्रामीणों के कई बार आवेदन देने पर भी आज दिनांक तक कोई कार्यवाही नहीं हुई इस मामले में कई राजस्व अधिकारी भी रिश्वतखोरी में संलिप्त हैं सभी आरोपियों को पर्याप्त राजनीतिक संरक्षण प्राप्त है जिसके चलते कानून का भय उनके अंदर से समाप्त हो चुका है अतः भीम आर्मी की यह मांग करती है कि उक्त मामले की उच्च स्तरीय जांच कर मामले में संलिप्त सभी आरोपियों पर कड़ी कानूनी कार्यवाही करें साथ ही सभी प्रार्थियों को घर गिरने का मुआवजा एवं उनकी जमीन का पट्टा दिलाया जाय जल्द ही 1 सप्ताह के अन्दर यदि कार्यवाही नही होती तो भीम आर्मी उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होगी जिसकी समस्त जवाबदारी शासन व प्रशासन की होगी

ज्ञापन में उपस्थित असपा प्रदेश सचिव सिद्धार्थ नालंदा, असपा, विस अध्यक्ष मैहर राघवेंद्र अहिरवार, संजीत चौधरी, विजय चौधरी जिला सह संयोजक दीपक प्रजापति विस अध्यक्ष अमरपाटन बद्री प्रसाद पटेल शिवकुमार साकेत दिलीप साकेत.अनिल साकेत,सुनील साकेत, विस प्रवक्ता एड.प्रदीप सूर्यवंशी तहसील अध्यक्ष प्रद्युम्न बौद्ध, प्रमोद बौद्ध, रोहन साकेत अभिषेक साकेत पंकज साकेत जयप्रकाश साकेत संदीप साकेत अंकित साकेत राजेन्द्र साकेत, रामजी साकेत, शिवासाकेत हनुमान गोंड़ अजय साकेत बिहारी गोंड़ कृष्णकुमार आकाश रामकरण रणजीत श्रीचन्द पंकज सत्यम गोंड़ दिलीप गोंड़, कैलाश गोंड़ बद्री साकेत रोहित गोंड़ आशीष गोंड़ संजय साकेत ,दिलीप साकेत, रामबाबू वर्मा, प्रहलाद साकेत, रणजीत साकेत, ओम प्रकाश चौधरी, सविता साकेत, मीरा, रौशनी साकेत, कल्ली, खुशबू, अनारकली मीराबाई संतोषी आदि बड़ी संख्या में लोग उपस्थित रहे।

About The Author

Related posts