इंदौर मध्यप्रदेश

इंदौर में विशाल आंबेडकर तिरंगा यात्रा का आयोजन।

इंदौर में विशाल आंबेडकर तिरंगा यात्रा का आयोजन।

इंदौर में विशाल आंबेडकर तिरंगा यात्रा का आयोजन।

स्वतंत्रता दिवस के पावन पर्व पर भारतीय संविधान के निर्माता बाबा साहेब डॉ भीमराव अम्बेडकर जी का बताया हुआ सूत्र शिक्षित बनो, संगठित रहो, संघर्ष करो को लेकर साथ ही भीम जन्मभूमि को 100 एकड़ जमीन के सम्मान के उद्देश्य को लेकर इंदौर शहर में विशाल आंबेडकर तिरंगा यात्रा का आयोजन किया गया

जो कि सांवेर विधान सभा क्षेत्र के ग्राम कनाडिया से प्रातः 9 बजे शुरू होकर इंदौर शहर के कई मार्ग बंगाली चौराहा, रोबोट चौराहा, बर्फानी धाम, विजय नगर, एम.आर.10, अरविंदो हॉस्पिटल, धरम पूरी होते हुए लगभग 40 किलोमीटर की दूरी तय कर आंबेडकर तिरंगा यात्रा सांवेर पंहुची जहा पर कई सामाजिक संगठनों के द्वारा पुष्प वर्षा कर आम्बेडकर तिरंगा यात्रा का स्वागत किया सांवेर में भारतीय संविधान निर्माता बाबा साहेब डॉ भीमराव आम्बेडकर जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर इस ऐतिहासिक यात्रा का समापन किया गया

इस यात्रा में सभी सामाजिक संगठनों का का सहयोग रहा इस विशाल आंबेडकर तिरंगा यात्रा मे समाज सेवी बन्ना मालवीय अंबेडकर जी द्वारा न्यूज़ कौ बताया कि इतने दिनौ से सोशल मीडिया पर प्रचार कर वाह सामाजिक साथियौ चर्चा फोन वा जमीन पर करने से सामाजिक साथि इस यात्रा में आए वार्ड 76 पार्षद सीमा सोलंकी जी के सहयोग से यात्रा और महत्वपूर्ण हुई कनाडीया के हमारे साथी राहुल चौहान जी का बहुत सहयोग रहा वह उनकी टीम शुभम मालवीयजी, ईश्वर मालवीयजी, गोलू मालवीयजी ,अंकित मालवीय जी इनका भी सहयोग रहा, समता सेना प्रदेश प्रभारी मोहन राठौर जी का भी बहुत सहयोग रहा

यात्रा में डमरू पहलवान जी ,मनोज मालवीयजी इन दोनों भाइयों का बहुत ज्यादा सहयोग रहा यात्रा में प्रदेश के कोने-कोने से आए हजारों साथी, जहां शाजापुर से राका भाई बामनियाजी , आष्टा से जीवनराज द्रविड़ जी, धार जिले से विनोद चौहान जी, इंदौर के पार्षद राकेश सोलंकी जी, धर्मराज प्रधान जी, आ. स .पार्टी. महासचिव विनोद यादव आंबेडकरजी, रीना बोरासी,दीपक पंचोलीजी, संजय सोलंकीजी महू,संजय मालवीयजी भिचौली हप्सी, रामप्रसाद सोलंकी जी,चिंटू मालवीय जी, टौड़ी सरपंच सूरज मालवीयजी ,सहित हजारों लोग शामिल हुए। आंबेडकर तिरंगा यात्रा मे देश भक्ति गीत, नारे और बाबा साहेब आंबेडकर के जयकारो की गूंज कनाडिया से सांवेर तक गूंजती रही सांवेर में यात्रा के समापन होने के बाद सभी युवा साथियों का आभार प्रकट किया जिन्होंने इस यात्रा को ऐतिहासिक बनाया।सफल आयोजन की आप सभी को बहुत बहुत बधाई एवं शुभकामनाएं।

About The Author

Related posts