क्राइम दिल्ली देश-विदेश नई दिल्ली शिक्षा

सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला- कॉल रिकॉर्डिंग अब नहीं माना जाएगा साक्ष्य

सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला- कॉल रिकॉर्डिंग अब नहीं माना जाएगा साक्ष्य

कॉल रिकॉर्डिंग अब नहीं माना जाएगा साक्ष्य, इतना ही नहीं सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा की यदि अगर किसी की इजाजत के बिना मोबाइल या फोन कॉल रिकॉर्ड की जाती है तो वह आईटी एक्ट-2000 की धारा 72 का होगा उल्लंघन।

About The Author

Related posts