भिंड

शौचालय के लिए फूप नगर परिषद् दफ्तर के चक्कर काट रहे बौद्ध संत

शौचालय के लिए फूप नगर परिषद् दफ्तर के चक्कर काट रहे बौद्ध संत

बंटी गर्ग पत्रकार

भिंड/स्वच्छ भारत अभियान के तहत सरकार द्वारा घर-घर शौचालय बनवाए गए थे लेकिन भ्रष्ट अधिकारियों और कर्मचारियों की कारगुजारी के चलते जरूरतमंदों को लाभ नहीं मिल पाया है l

जी हां ऐसा ही कुछ मामला फूप नगर परिषद में देखने को मिला हे फूप नगर में ही स्थित बौद्ध विहार में रहने वाले बौद्ध संत ने 2016 में शौचालय निर्माण के लिए रसीद कटवाई थी लेकिन नगर परिषद मैं बैठे भ्रष्टाचारियों की कारगुजारी के चलते बौद्ध बिहार में शौचालय का निर्माण नहीं हो सका है और बौद्ध संत नगर परिषद दफ्तर के चक्कर काटते काटते थक चुके हैं

About The Author

Related posts