भोपाल मध्यप्रदेश

कलेक्टर ने 1 लिपिक एवं 3 शिक्षकों को कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया

कलेक्टर ने 1 लिपिक एवं 3 शिक्षकों को कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया

एक वेतन वृद्धि रोकने के कलेक्टर ने दिए निर्देश

लापरवाही बरतने के कारण चारों कर्मचारियों पर होगी अनुशासनात्मक कार्यवाही

कलेक्टर श्री दिलीप कुमार यादव ने आज स्कूलों का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भेसोदा एवं कनघट्टी के लिपिक श्री प्रमोद कसेरा अनुपस्थित पाए गए। श्री प्रमोद बिना कोई सूचना एवं अवकाश लिए ड्यूटी से अनुपस्थित थे। प्राथमिक विद्यालय नई आबादी कनघट्टी के शिक्षक श्री शिवराज सिंह शक्तावत एवं शिक्षक श्री लाल सिंह चौहान के स्कूल में कक्षा के समय भी बच्चे स्कूल के बाहर घूमते हुए मिले और उपस्थिति रजिस्टर में भी बच्चों की उपस्थिति बहुत ज्यादा कम पाई गई।
प्राथमिक विद्यालय बोतलगंज की शिक्षिका नीता नागौर के द्वारा स्कूली बच्चों की उपस्थिति ही नहीं ली गई। इसके साथ ही सभी बच्चे स्कूल के बाहर घूमते हुए पाए गए। कर्तव्य से अनुपस्थित तथा लापरवाही बरतने के कारण एक लिपिक एवं 3 शिक्षकों को कलेक्टर ने अनुशासनात्मक कार्यवाही करने के नोटिस जारी किया है।

इन सभी कर्मचारियों का उक्त कृत्य सिव्हिल सेवा आचरण नियम, 1965 के नियम-3 के उपबंधों के अन्तर्गत अनुशासन हीनता तथा गम्भीर कदाचरण की श्रेणी में आता है। इनके विरुद्ध कार्यवाही करते हुए एक वेतनवृध्दि असंचयी प्रभाव से रोकने की कार्यवाही की जाती है। यह सभी अपना लिखित प्रतिवेदन 03 दिवस की अवधि में स्वयं उपस्थित प्रस्तुत करेंगे। जवाब 3 दिवस में प्रस्तुत नहीं करने या जवाब समाधान कारक नहीं पाया जाने पर इनके विरूध्द वैधानिक कार्यवाही की जावेगी।

About The Author

Related posts