परिहार फार्म पर जैविक उद्यानिकी प्रोसेसिंग यूनिट देख कलेक्टर श्री वानखेड़े ने की किसान की प्रशंसा

कबीर मिशन :- संतोष कुमार सोनगरा आगर जिला प्रतिनिधि

आगर-मालवा, 31 दिसंबर। जिला मुख्यालय से करीब 18 किलोमीटर दूर बडौद तहसील के ग्राम बिनायगा पहुंच कलेक्टर श्री कैलाश वानखेड़े ने जिले के राष्ट्रीय प्रगतिशील किसान राधेश्याम परिहार की जैविक उद्यानिकी फूड प्रोसेसिंग यूनिट देख कृषक की प्रशंसा की । कृषक परिहार ने उद्यानिकी फसलों की जैविक खेती अपनाने और इसे अपेक्षित सफलता एवं लाभ की अपनी 10: 12 साल की सफलता की कहानी बताइ एवं फार्म पर कृषक पाठशाला का संचालन भी करते हैं जिसमें अनेक जिलों व राज्यों के किसान एनजीओ अर्धशासकीय, शासकीय समूह संगठन भी यहां पर ट्रेनिंग लेने के लिए आते हैं, खेत पर एप्पल बेर, संतरा, मिर्ची, हल्दी, धनिया, ऊटी लहसुन, सतावर , सर्पगंधा आदि औषधीय खेती, खेत तालाब,अनाज मसाला व औषधि उपज को क्लीन प्रोसेसिंग ब्रांडिंग करने की विधि भी कलेक्टर श्री वानखेड़े को बताई एवं खुद का ब्रांड लेकर अमेजॉन, फ्लिपकार्ट व महानगर जयपुर इंदौर, दिल्ली, बेंगलुरु आदि जगह अपनी मसाला औषधि फसल ब्रांडिंग, पैकेजिंग करके सप्लाई करते हैं, हर फसल की बोवनी रिजट पद्धति, मल्चिंग ड्रिप, रेन पाइप आदि से की जाती है इस पद्धति व जैविक खाद एवं कीटनाशक के उपयोग से खेती में लागत कम व मुनाफा ज्यादा मिलता है।

कृषक परिहार ने बताया कि 5 बीघा जमीन से 10 साल पहले उन्होंने इस जैविक खेती की शुरुआत की थी आज की स्थिति में 30 बीघा जमीन खरीद कर खेती कर रहे हैं, वह उनका वार्षिक टर्नवर एक करोड़ से ऊपर पहुंच गया है,जीएसटी नंबर भी ले रखा है वह टैक्स भी जमा कर रहे हैं । कलेक्टर श्री वानखेड़े ने राधेश्याम परिहार को जिला टीम के साथ में एक जिला एक उत्पाद को बढ़ावा देने के लिए परिहार फार्म पर अधिकारियों को भ्रमण के लिए निर्देश दिए फार्म पर ग्राम पंचायत रापडी के सरपंच मोहन सिंह परिहार, ग्रामीण जन भी मौजूद थे।