गंधवानी विधानसभा के विधायक उमंग सिंघार के खिलाफ प्रदर्शन पर कांग्रेसी नाराज:बोले गए शब्दों को लेकर जिपं सदस्य के साथ थाना परिसर में दिया धरना, सौंपा ज्ञापन

गंधवानी विधानसभा के विधायक उमंग सिंघार के खिलाफ प्रदर्शन पर कांग्रेसी नाराज:बोले गए शब्दों को लेकर जिपं सदस्य के साथ थाना परिसर में दिया धरना, सौंपा ज्ञापन

कबीर मिशन समाचार धार से मयाराम सोलंकी खास रिपोर्ट

कबीर मिशन समाचार धार से मयाराम सोलंकी खास रिपोर्ट
जिले की गंधवानी विधानसभा के विधायक उमंग सिंघार के खिलाफ धार के नौगांव थाने पर गत दिनों महिला की रिपोर्ट पर पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया था, जिसको लेकर बाग व टांडा में कुछ आदिवासी समाज के युवाओं द्वारा एकत्रित होकर प्रदर्शन किया गया था। इस विरोध के दौरान विधायक को लेकर अपशब्दों का प्रयोग किया गया, इस बात से क्षेत्र के कांग्रेसी नाराज हो गए है।

मंगलवार दोपहर के समय बड़ी संख्या में कांग्रेसी चौराहे पर एकत्रित हुए तथा जिपं सदस्य मुकामसिंह अलावा के समर्थन में रैली निकालकर सभी कांग्रेसी टांडा थाने पर पहुंचे, जहां पर पहले कार्रवाई की मांग को लेकर थाना परिसर में धरना दिया गया। जिसके बाद एक ज्ञापन भी सौंपा गया है।

दरअसल जबलपुर निवासी विधायक की पत्नी व कांग्रेस नेत्री ने धार पुलिस को दिए बयान में बताया कि निजी कार्यक्रम के दौरान दोनों के बीच में परिचय हुआ था, जिसके बाद विधायक ने शादी का झांसा देकर भोपाल बुलाया व 16 अप्रैल 2022 को भोपाल में शादी की थी। कुछ दिन भोपाल में रहने के बाद विधायक कांग्रेस नेत्री को धार लेकर आ गए थे।

इस मामले में नौगांव पुलिस ने 20 नवंबर को धार में विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया था। विधायक सिंघार को जहां पुलिस तलाश कर रही हैं, वही उनकी विधानसभा गंधवानी में कुछ युवकों के द्वारा विरोध कर पुतला दहन करने के साथ ही ज्ञापन सौंपा गया था, इस प्रदर्शन के दौरान युवाओं ने विधायक को महिला का हत्यारा बताया था। इसी बात से टांडा क्षेत्र के कांग्रेसी नाराज है। जिपं सदस्य मुकाम सिंह अलावा ने बताया कि 27 नवंबर रविवार को टांडा के मुख्य मार्ग पर क्षेत्रीय विधायक सिंघार का पुतला दहन किया गया तथा महिला हत्यारा बताकर नारेबाजी की गई, जो की गलत है।साथ ही विधायक की छवि को खराब करने का प्रयास किया जा रहा है। जबकि विधायक पर अभी दोष न्यायालय में सिद्ध नहीं हुए है। वहीं पूतला जलाने वाले अनिल अलावा पूर्व में भी विधायक के खिलाफ बयानबाजी कर चुके हैं, जिसको लेकर 20 अगस्त को भी ज्ञापन सौंपा गया था। ऐसे में गलत बयानबाजी करने व पूतला दहन करने के मामले में प्रकरण दर्ज करने की मांग युथ कांग्रेस की ओर से की गई है। प्रदर्शन के दौरान जगन भाबर, बिरसिंह मच्छर, करमसिंह मेहडा सहित अन्य कांग्रेसी मौजूद रहे।