दतिया

बहादुरपुर ग्राम स्थित कुलदेवी माता मंदिर पर हुआ सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं भजन संध्या का आयोजन

बहादुरपुर ग्राम स्थित कुलदेवी माता मंदिर पर हुआ सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं भजन संध्या का आयोजन

मंदिर में पक्षियों के लिए सकोरे टांग की गई दाना-पानी की व्यवस्था

दतिया से नगर संवाददाता विकास वर्मा की रिपोर्ट दतिया कल शनिवार को एकादशी के दिन ग्राम बहादुरपुर में स्थित गाँव की कुलदेवी माता मंदिर पर प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी भजन संध्या एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में नगर पालिका उपाध्यक्ष प्रतिनिधि योगेश सक्सेना उपस्थित रहे एवं विशिष्ट अतिथि के रूप में जनपद पंचायत सदस्य अंकुश दांगी एवं समाजसेवी राजेश त्यागी उपस्थित रहे। कार्यक्रम में लोकगीत गायक बड़ौनी निवासी संतोष श्रीवास्तव एवं उनकी भजन मंडली व उत्तरप्रदेश के बरूआसागर निवासी सीमा बघेल द्वारा एक से बढ़कर एक भजनों की प्रस्तुति दी गई

तथा नृत्यांगना मालती कुशवाहा, ललितपुर व वंदना सिंह,झाँसी ने भजनों पर आकर्षक नृत्य की प्रस्तुतियां दी। कार्यक्रम के दौरान पिछले 3-4 वर्षों में बहादुरपुर के वो युवा जो देश के विभिन्न क्षेत्रों में जाकर देश सेवा कर अपने गांव का नाम रोशन कर रहे है उन युवाओं के अभिभावकों का अतिथियों द्वारा सम्मान किया गया। कार्यक्रम में मोती पटेल,हरगोविंद वंशकार, विक्रम पटेल,अतर सिंह पांचाल, भगवान सिंह दांगी, सेवक वंशकार व राजेंद्र कोठिया का माल्यार्पण कर एवं शॉल-श्रीफल भेंटकर सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम के पूर्व मंदिर परिसर में पक्षियों के लिए सकोरे टांग कर उनमें दाना-पानी की व्यवस्था की गयी एवं दीप दान किया गया,कार्यक्रम के आयोजक समाजसेवी डॉ राजू त्यागी ने जानकारी देते हुए बताया कि चैत्र नवरात्र के पश्चात एकादशी के दिन गांव की कुलदेवी माता मंदिर पर मेले का आयोजन किया जाता है। पिछले तीन वर्षों से प्रदेश के पूर्व गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा के संरक्षण में मेले के दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं भजन संध्या का आयोजन किया जा रहा है।

गत वर्षों की भाँति इस वर्ष भी माननीय पूर्व गृहमंत्री के संरक्षण में माता मंदिर पर आयोजित मेले के दौरान भजन संध्या एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में ग्राम राधापुर, निरावल, बड़ेनिया, भवानीपुर, महाराजपुरा, चक बहादुरपुर, भिटौरा, खीरिया घोघू, सियारी सहित अन्य ग्रामों के ग्रामवासी एवं बड़ी संख्या में माताएं-बहनें व श्रद्धालु उपस्थित रहे।

About The Author

Related posts