आगर-मालवा मध्यप्रदेश

MCL बायोफ्यूल की MVP मीटिंग में लिया निर्णय,आगर जनपद में जल्द ही शुरू होगा कोयला बनाने का प्लांट चालू,फिर CNG गैस

MCL बायोफ्यूल की MVP मीटिंग में लिया निर्णय,आगर जनपद में जल्द ही शुरू होगा कोयला बनाने का प्लांट चालू,फिर CNG गैस


कबीर मिशन :- संतोष कुमार सोनगरा आगर जिला प्रतिनिधि 7566001755

आगर – आगर के मिंटों होटल में 3/11/22 की दिनांक को MCL बायोफ्यूल की MVP मीटिंग संपन्न हुई । मीटिंग में किसानों एवं MVP को जल्दी से इनकम शुरू हो कंपनी की प्राथमिकता। कंपनी का कहना है कि सीएनजी गैस बनाने में एक जनपद में पूरी ग्राम पंचायत में MVP पूरी तरह से प्रशिक्षित होकर 1 ग्राम पंचायत से 300 किसानों का रजिस्ट्रेशन पूर्ण होने के बाद प्लांट का काम शुरू होगा । लेकिन सीएनजी गैस बनाने में कई प्रकार की सरकार से एनओसी की जरूरत पड़ती है जिसमें काफी समय लगता है इसलिए किसानों की नेपियर घास को कंपनी द्वारा खरीद कर जल्द ही उसका उपयोग कोयला बनाने में किया जाएगा । क्योंकि कोयला बनाने के प्रोजेक्ट में ज्यादा एनओसी लेने की जरूरत नहीं होती है। इसलिए जल्द से जल्द किसानों को फ्री में नेपियर घास के बीज दिए जाएंगे ताकि वह अपनी फसल उगा कर जल्द से जल्द एक अच्छी कम खर्च वाली फसल का उत्पादन कर एक अच्छा मुनाफा कमा सकता है ।

और उसके साथ ही कंपनी से जुड़े ग्राम पंचायत प्रतिनिधि की आय भी शुरू हो सके । कंपनी में पधारे ग्राम पंचायत प्रतिनिधियों को तुषार करजोतकर ने ग्राम पंचायत में किसानों का रजिस्ट्रेशन का काम पूर्ण करने वाले एवं अच्छा काम करने वाले प्रतिनिधियों को फूल का गुलदस्ता देखकर सम्मानित भी किया। कुछ दिन पहले इंदौर में हुई मीटिंग मैं बताया गया कि मध्य प्रदेश में 400 प्लांट बनाए जाएंगे। लेकिन प्रथम चरण में 48 प्लांट पंजीकृत हुए हैं इनमें से 6 प्लांट का काम भी शुरू हो गया है जिसमें से आगर, शाजापुर ,छिंदवाड़ा, होशंगाबाद, रतलाम ,बड़वानी आदि जिलों मैं काम शुरू हो गया है। आगर जिले की नलखेड़ा तहसील एवं आगर तहसील में कानड़ में प्लांट का काम जल्द ही शुरू होगा। जबकि नलखेड़ा एवं मोहन बड़ोदिया में प्लांट का काम पूर्ण होने एवं नेपियर घास से कोयला बनाने का काम 4 महीने के अंदर शुरू होने वाला है। इसलिए आगर तहसील में तकरीबन 30 से 32 ग्राम पंचायतों में पंचायत प्रतिनिधि तैयार हो चुके हैं और कुछ ग्राम पंचायतों के प्रतिनिधियों ने 300 किसानों के रजिस्ट्रेशन का काम भी पूर्ण कर लिया है।

आगर तहसील के प्लांट का संचालन करने वाले तुषार करजोतकर ने आग्रह किया कि बची हुई पंचायतों में जल्द ही पंचायत प्रतिनिधि बनाने में अच्छे उज्जवल भविष्य की कामना करने वाले कर्मठ, जुझारू, इमानदार व्यक्तियों की जरूरत है। बने हुए MVP ( ग्राम पंचायत प्रतिनिधि) सहयोग कर जनपद में 15000 किसानों का रजिस्ट्रेशन पूर्ण कर फरवरी-मार्च तक हम भी किसानों को फ्री में नेपियर घास प्रदान कर प्लांट का काम शुरू करने के पश्चात कोयला बनाने का काम जल्द ही शुरू कर देंगे । जिसके लिए हमें काम में और तेजी लानी होगी। बता दें अभी कंपनी ने 100 टन सीएनजी गैस प्रतिदिन एक प्लांट से बनाने का लक्ष्य रखा है जबकि एक जनपद में 500 टन सीएनजी गैस की खपत होती है । सीएनजी गैस बनने से पहले नेपियर घास से कोयला बनाने का काम भी कंपनी साथ में और जल्दी शुरू करेगी। किसानों को 1 टन का ₹1000 के हिसाब से नेपियर घास कंपनी खरीदेगी। एक किसान 1 एकड़ में 150 टन से 200 टन प्रतिवर्ष तक का व इससे ज्यादा भी नेपियर घास का उत्पादन कर सकता है। इसके साथ ही किसानों को एक शेयर भी दिया जाएगा। और कंपनी साल में एक बार किसानों वह कर्मचारियों को अलग से कंपनी का 1 साल का 10% मुनाफा भी बांटेगी। कंपनी का 1 साल का मुनाफे का 20% गांवों के विकास कार्यों में भी खर्च करेगी। कंपनी से बनने वाला कोयला एवं सीएनजी गैस सरकार खरीदेगी। जिससे सरकार कोयला एम सीएनजी गैस से बिजली बनाने का काम, इंडस्ट्री को बिजली देने का काम एवं घरेलू उपयोग में सीएनजी गैस का वितरण भी सरकार करेगी। मीटिंग में उपस्थित एमवीपी ने अपने अपने अनुभव साझा कर तुषार करजोतकर सर से जल्द ही कंपनी का काम शुरू हो का सहयोग देने का वादा किया तुषार करजोतकर सर का धन्यवाद एवं आभार माना।

About The Author

Related posts