विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
October 6, 2022

धार।‌‌ स्वराज अमृत महोत्सव के तहत व्याख्यान माला कार्यक्रम संपन्न

स्वराज अमृत महोत्सव के तहत व्याख्यान माला कार्यक्रम संपन्न, जिस दिन अखण्ड भारत परम वैभवशाली होकर जगतगुरू होगा उस दिन भारत का जन-जन सुखी होगा – मुख्य वक्ता श्री शर्मा खलघाट धार

कबीर मिशन समाचार। पवन सावले

बड़ी संख्या में श्रोतागण व्याख्यानमाला में उपस्थित रहे, माताओं बहनों की उपस्थिति भी बड़ी सराहनीय रही। स्वराज अमृत महोत्सव समिति के उपखंड संयोजक श्री भरत सिंह चौहान जी ने बताया कि इस पूरे अभियान के दौरान 26 जनवरी2022, भारत माता पूजन से प्रारंभ होकर 15 अगस्त 2022 को घर-घर तिरंगा अभियान तथा भारत माता की आरती के साथ पिछले 8 महीनों में अनेक प्रकार के आयोजन स्वराज का भाव जागृत करने हेतु किए गए जिनमें तिरंगा यात्रा, सामाजिक समरसता कावड़ यात्रा बालवीर तिरंगा यात्रा माटी पूजन विविध प्रकार की प्रतियोगिताएं, अमर बलिदानीओ के स्थलों की यात्राएं, मशाल जुलूस, स्वराज वाटिका, मानव श्रृंखला बनाना ऐसे अनेक आयोजन संपन्न हुए जिसमें सभी ग्राम वासियों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया।

अखंड भारत स्वप्न नही संकल्प है इसे हम साकार करेंगे— श्री शर्मा

देश के सभी भागों में चले लंबे स्वतंत्रता संघर्ष और बलिदानों से स्वराज की प्राप्ति हुई है। स्वत्व के बोध के कारण ही बंग भंग आंदोलन को सफलता मिली और स्वत्व के बोध में कमी के कारण ही देश का त्रासद विभाजन हुआ।

हम खंडित भारत माता को पुनः अखंड स्वरूप में परम वैभव के सिंहासन पर आरुढ करेंगे।उक्त उद्गार गायत्री मंदिर के विचार क्रांति कक्ष में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विभाग बौद्धिक शिक्षण प्रमुख हरिओम शर्मा ने स्वराज अमृत महोत्सव समिति द्वारा आयोजित व्याख्यानमाला के अवसर पर व्यक्त किए।

स्वराज से स्वतंत्रता की ओर विषय पर प्रकाश डालते हुए श्री शर्मा ने कहा कि हम सौभाग्यशाली हैं, कि हमें स्वाधीन भारत में जन्म मिला।हमारी पीढ़ी को पराधीनता की पीड़ा व स्वाधीनता संग्राम के संघर्ष की अनुभूति नहीं है। स्वाधीन तो हुए लेकिन स्वराज का भाव विलुप्त सा हो गया।

अमृत महोत्सव इसी स्वराज के जागरण का अभियान रहा है। कार्यक्रम का प्रारंभ भारत माता के चित्र पर माल्यार्पण पूजन एवं दीप प्रज्वलन कर किया गया।

मुख्य वक्ता हरि ओम जी शर्मा व स्वराज अमृत महोत्सव समिति उपखंड संयोजक भरत सिंह चौहान सहसंयोजक श्री नरेंद्र जी आचार्य का स्वागत कार्यक्रम के प्रचार प्रमुख श्री प्रवीण जी राने के द्वारा किया गया एवं अतिथि परिचय श्री राहुल जी जयसवाल द्वारा किया गया तथा कार्यक्रम के समापन पर पूर्ण वंदे मातरम का गायन मातृशक्ति के द्वारा हुआ कार्यक्रम का संचालन श्री राहुल जी जायसवाल एवं आभार प्रकट पवन सावले द्वारा किया गया।