देवास मध्यप्रदेश राजनीति समाज

धरमपुरी विधायक पंचीलाल मेड़ा ने 4 सौ से अधिक आदिवासी परिवारों को हक दिलवाने के लिए निकाली पैदल यात्रा।

धरमपुरी विधायक पंचीलाल मेड़ा ने 4 सौ से अधिक आदिवासी परिवारों को हक दिलवाने के लिए निकाली पैदल यात्रा।

कबीर मिशन समाचार जिला ब्यूरो चिफ़ पवन परमार जिला देवास

सोनकच्छ। पिछले माह धार जिले में माण्ड़व तहसील अंतर्गत बने कारम डेम का एक हिस्सा अचानक से बह गया। अचानक हुए हादसे से अनजान नीचली बस्ती में रह रहे करीब 4 सौ से अधिक आदिवासियों के मकान, दुकान, फसल, मवेशी सब बह गये। इन लोगों के पास खाने का एक दाना तक नहीं बचा।

काफी दिनों तक यह लोग जंगलों में बिना बिजली, बिना संसाधनों के रहे, भाजपा की राज्य सरकार द्वारा सभी को मुआवजे की घोषणा की गई जिसके बाद सर्वे करवाकर पंचानामें बनाए गए। किन्तु जब मुआवज की बात आई तो मुल्यांकन के अनुसार मुआवजा नहीं दिया गया। कुछ ही लोगों को थोड़ा बहुत ही मुआवजा मिला बाकी अधिकतर लोगों को अब तक मुआवजा नहीं मिला।

सरकार के 3 मंत्री जब डेम का हिस्सा बहा तो 3 दिनों तक वहाँ बैठे रहे। बाकी किसी ने भी इन गरीबों की सुध नहीं ली। जब मैं विधानसभा में इन गरीबों के हक के लिए आवाज उठा रहा था तब मेरे द्वारा भाजपा विधायक के द्वारा मारपीट व झूमाझपटी की गई, मेरे कपड़े फाटकर मुझे बेइज्जत किया गया।

मैंने प्रण लिया है कि जब तक इन गरीबों का हक नहीं मिल जाता मैं चेन से नहीं बैठुंगा। उक्त बात सोनकच्छ पैदल यात्रा लेकर पहुंचे धरमपुरी विधायक पंचीलाल मेड़ा ने सोमवार को मीडिया से कही। यात्रा आदिवासी हक पैदल यात्रा 21 सितम्बर से प्रारंभ हुई जो 29 सितम्बर भोपाल राजभवन पहुंचकर महामहिम राज्यपाल को न्याय के लिए ज्ञापन सौपकर उचित मुआवजे की मांग की जाएगी।

पैदल यात्रा 25 सितम्बर रविवार को सोनकच्छ पहुंची जहाँ जनपद अध्यक्ष सूरजसिंह ठाकुर के नेतृत्व में विधायक के साथ आए सभी लोगों को भोजन व ठहरने की व्यवस्था की गई। यात्रा का जगह-जगह सैकड़ो कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया।

सोमवार सुबह पैदल यात्रा स्थानीय कृषि उपज मण्ड़ी से प्रारंभ हुई इसके पूर्व सभी लोगों ने चाय-नाश्ता कर विधायक मेड़ा के साथ आष्टा की यात्रा लेकर निकल पड़े।

यात्रा के साथ जपं अध्यक्ष ठाकुर, नपं अध्यक्ष व पार्षद कृष्णपालसिंह बघेल, ब्लाक अध्यक्ष भारतसिंह गोहिल, पार्षद प्रतिनिधि आरिफ खान, नगर अध्यक्ष देवेन्द्र जोशी, राधेश्याम चौधरी, पूर्व सरपंच राधेश्याम जाट सहित सैकड़ों कार्यकर्ता भी यात्रा में सम्मिलित हुए।

About The Author

Related posts