दतिया

जन्म-मृत्यु के पंजीयन के संबंध में जिला स्तरीय प्रशिक्षण आयोजित जन्म का प्रमाण पत्र ही सभी दस्तावेजों का आधार होगा

जन्म-मृत्यु के पंजीयन के संबंध में जिला स्तरीय प्रशिक्षण आयोजित जन्म का प्रमाण पत्र ही सभी दस्तावेजों का आधार होगा


दतिया से विकास वर्मा की रिपोर्ट
दतिया जन्म-मृत्यु पंजीयन के संबंध में जन्म-मृत्यु संशोधन अधिनियम 2023 एवं CRS Revamped पोर्टल विषय पर एक दिवसीय प्रशिक्षण कलैक्ट्रेट कार्यालय के सभाकक्ष में विगत दिवस आयोजित किया गया। उपरोक्त प्रशिक्षण कार्यक्रम में अपर कलेक्टर एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत कमलेश भार्गव, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी धनन्जय मिश्रा, प्रभारी जिला योजना अधिकारी एवं जिला रजिस्ट्रार (जन्म-मृत्यु) एस.एस.सिसोदिया एवं जन्म-मृत्यु पंजीयन कार्य करने वाली ग्रामीण एवं शहरी इकाईयों के रजिस्ट्रार व उपरजिस्ट्रार उपस्थित रहें। जनगणना कार्य निदेशालय म.प्र.भोपाल के वरिष्ठ अधिकारी शिवांशु कुमार सहायक निदेशक, सिद्वार्थ गोयल एस.आई. ग्रेड 2 द्वारा जन्म-मृत्यु संशोधन अधिनियम 2023 एवं CRS Revamped पर प्रशिक्षण दिया गया।

प्रशिक्षण में जिले के समस्त शासकीय चिकित्सा संस्थानोे के रजिस्ट्रार, शाखा प्रभारी एवं आई.टी. कर्मचारी, समस्त नगरीय निकायों के रजिस्ट्रार, शाखा प्रभारी एवं आई.टी. कर्मचारी, जनपद पंचायत स्तर के शाखा प्रभारी, आई.टी. कर्मचारी, सचिव ग्राम पंचायत उपस्थित रहें। प्रशिक्षण में संशोधित अधिनियम 2023, CRS Revamped पोर्टल पर विस्तृत चर्चा की गई। प्रशिक्षण के मुख्य बिन्दुओं में अधिनियम लागू होने वाली 01.10.2023 के बाद पैदा हुए बच्चों का जन्म प्रमाण पत्र अनिवार्य कर दिया गया है, जो बच्चे से संबंधित बनाए जाने वाले अन्य दस्तावेजों जैसे आधार कार्ड, पैन कार्ड, मतदाता सूची, ड्राइविंग लाइसेंस, शासकीय नौकरी में ज्वानिंग एवं अन्य नागरिक सुविधाओं को प्राप्त करने का एक मात्र प्रमाण पत्र होगा।चिकित्सा संस्थानों में हुई प्रत्येक मृत्यु के कारणों चिकित्सीय प्रमाणीकरण संबंधित संस्थान के स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा दिया जाना अनिवार्य होगा। उसकी एक प्रति संबंधित रजिस्ट्रार एवं दूसरी प्रति निकटतम संबंधी को निःशुल्क दिया जाएगा।CRS Revamped पोर्टल में आम नागरिकों द्वारा मोबाईल ओटीपी के माध्यम से जन्म-मृत्यु की सूचना घटित घटना के स्थान से संबंधित रजिस्ट्रार को, ऑनलाईन प्रेषित की जा सकेगी एवं रजिस्ट्रार द्वारा सत्यापन कर प्रमाण पत्र जारी किया जा सकेगा। जो सूचना दाता द्वारा उल्लेखित ई मेल आई.डी. पर प्राप्त हो जाएगा।जिला रजिस्ट्रार जन्म-मृत्यु एस.एस.सिसोदिया द्वारा भोपाल से पधारे हुए वरिष्ठ अधिकारियों का एवं प्रशिक्षण में उपस्थित समस्त प्रतिभागियों का आभार व्यक्त किया गया।

About The Author

Related posts