भोपाल

झंडा दिवस पर दान राष्ट्र के प्रति प्रतिबद्धता का प्रदर्शन: राज्यपाल श्री पटेल

झंडा दिवस पर दान राष्ट्र के प्रति प्रतिबद्धता का प्रदर्शन: राज्यपाल श्री पटेल

राज्यपाल सम्मान से सैनिक कल्याण के लिए बड़ी राशि देने वाले हुए सम्मानित
तीन संभागायुक्त एवं 36 कलेक्टर द्वारा लक्ष्य से अधिक राशि का संग्रहण किया

राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने कहा है कि झंडा दिवस पर दान, राष्ट्र के प्रति प्रतिबद्धता का प्रदर्शन है। कभी संपन्न और समृद्ध लोग राष्ट्र की रक्षा के लिए जीवन समर्पित करने वाले सैनिकों, उनके परिजनों के सहयोग के लिए आगे आएं। अमृत काल में भारत माता के लाड़ले बहादुर बेटों और बेटियों के प्रति अपनी प्रतिबद्धता झंडा दिवस के अवसर पर अधिक से अधिक राशि का दान देकर प्रदर्शित करें। मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैस, जनरल ऑफिसर कमांड हेडक्वार्टर मध्य भारत एरिया जबलपुर लेफ्टिनेंट जनरल एम.के. दास, अपर मुख्य सचिव श्री राजेश राजौरा, राज्यपाल के प्रमुख सचिव श्री डी.पी. आहूजा एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

राज्यपाल श्री पटेल राजभवन में समामेलित विशेष निधि राज्य प्रबंधन समिति की 22वीं वार्षिक बैठक के बाद समिति के पदाधिकारियों, सैनिक कल्याण के अधिकारियों और दानदाताओं को संबोधित कर रहे थे। समामेलित विशेष निधि में 1 लाख रुपए से अधिक राशि का दान देने वाले 14 व्यक्तिगत और संस्थागत दान दाताओं एवं 3 संभागों के आयुक्त और 36 जिलों के कलेक्टरों को राज्यपाल के सम्मान से सम्मानित किया गया।

राज्यपाल श्री पटेल ने कहा कि गत वर्ष जन-सहयोग से 3 करोड़ 24 लाख 64 हज़ार से अधिक राशि का संग्रहण उल्लेखनीय उपलब्धि है। उन्होंने वेब पोर्टल द्वारा क्यू.आर. कोड के माध्यम से राशि प्राप्त किए जाने के मध्यप्रदेश सैनिक कल्याण बोर्ड के प्रयासों की सराहना की। आशा व्यक्त की कि क्यू.आर. कोड से राशि ट्रांसफर होने की सुविधा बड़ी संख्या में दानदाताओं को निधि में दान देने में सक्षम बनाएगी। छोटी से छोटी राशि के भी दान सुगमता से दिए जा सकेंगे। समाज के सभी समर्थ, समृद्ध व्यक्तियों को पूर्व सैनिकों और परिजनों की समस्याओं के निराकरण के लिए संवेदनशीलता के साथ और सहयोगात्मक तरीके से जमीनी स्तर पर भी प्रयास करने चाहिए। इसके लिये राशि संग्रहण के कार्यक्रम आदि भी किए जा सकते हैं।

राज्यपाल ने कार्यक्रम में उपस्थित संभागायुक्त नर्मदापुरम श्री श्रीमन शुक्ला, कलेक्टर भोपाल श्री आशीष सिंह और रायसेन कलेक्टर श्री अरविंद दुबे को प्रशस्ति-पत्र एवं स्मृति-चिन्ह प्रदान किए। स्वागत उद्बोधन और आभार प्रदर्शन संचालक सैनिक कल्याण ब्रिगेडियर अरुण नायर ने किया। संचालन कमांडर उदय सिंह ने किया।

       श्रीमती शीला बालकृष्ण देशमुख इंदौर ने राशि 5 लाख रुपए, श्रीमती निर्मला शर्मा भोपाल ने राशि 3 लाख रुपए, क्षेत्रीय प्रबन्धक सेंट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया सागर 1 लाख 59 हज़ार 851 रुपए, श्री अजीत समदड़िया रीवा 1 लाख 50 हज़ार रुपए, श्रीमति अंजना सूरी रीवा 1 लाख 11 हज़ार रुपए, क्षेत्रीय महाप्रबन्धक भारतीय स्टेट बैंक भोपाल वृत्त 1 लाख 11 हज़ार रुपए, श्री राकेश अग्रवाल उज्जैन 1 लाख 1 हज़ार रुपए, श्री वल्लभ भाई पटेल इंदौर ने 1 लाख 1 हज़ार रुपए, श्रीमती कमला तिवारी छिंदवाड़ा ने 1 लाख रुपए, श्रीमती निर्मला विद्या प्रसाद वर्मा इंदौर ने राशि 1 लाख रुपए, श्री सुनील सिंह रीवा ने 1 लाख रुपए, मैनेजिंग डायरेक्टर, जे. पी. थर्मल पॉवर प्लांट बीना ने 1 लाख रुपए, प्रबन्धक (एच आर) भारत-ओमान रिफाइनरी आगासोद बीना ने 1 लाख रुपए और अध्यक्ष मध्यप्रदेश भूतपूर्व सैनिक कल्याण समिति की 1 करोड़ रुपए की सहयोग राशि निधि में प्राप्त हुई। लक्ष्य से अधिक राशि एकत्रित करने वाले संभागों में नर्मदापुरम, उज्जैन और भोपाल शामिल हैं। लक्ष्य से अधिक एकत्रित करने वाले जिलों में अलीराजपुर, हरदा, दतिया, टीकमगढ़, छिंदवाडा, सागर, दमोह, सतना, रतलाम, श्योपुर, उज्जैन, बैतूल, नीमच, ग्वालियर, भोपाल, अनूपपुर, आगर मालवा, रीवा,खरगौन, मण्डला, सिवनी, मन्दसौर, राजगढ़, शाजापुर, विदिशा, धार, जबलपुर, सीहोर, इन्दौर, शहडोल, कटनी, शिवपुरी, देवास, गुना, नर्मदापुरम और रायसेन जिला शामिल हैं।

समामेलित विशेष निधि राज्य प्रबंधन समिति की बैठक संपन्न

      राज्यपाल श्री पटेल की अध्यक्षता में कार्यक्रम के पूर्व समामेलित विशेष निधि की राज्य प्रबंध समिति की बैठक में विगत बैठक के पालन प्रतिवेदन की समीक्षा की गई। सैनिक कल्याण से सम्बंधित विभिन्न विषय पर चर्चा की गई। वार्षिक बजट का अनुमोदन किया गया।

About The Author

Related posts