महेश्वर में धड़का हिंदुस्तान का दिल

कैनो सलालम की मेजबानी के लिए तैयार हुआ महेश्वर

खरगोन से महेश्वर पहुंची खेलो इंडिया की मशाल

खरगोन 16 जनवरी 2023। खरगोन और महेश्वर में खेलों इंडिया की मशाल के साथ धड़का हिंदुस्तान का दिल। खेलों इंडिया की मशाल सोमवार को खरगोन नगर में भ्रमण कर दोपहर में महेश्वर पहुंची। खरगोन के उत्कृष्ट मैदान में जैसे ही कलेक्टर श्री कुमार पुरुषोत्तम और एसपी श्री धर्मवीर सिंह ने खेलों इंडिया की मशाल थामी खिलाड़ियों और छात्र के दिल धड़कने लगे।

इस अवसर पर कलेक्टर श्री कुमार पुरुषोत्तम ने कहा की महेश्वर में 6 और 7 फरवरी को सिर्फ राष्ट्रीय स्तर का खेल ही नही हो रहा है बल्कि प्रदेश के 8 जिले मिलकर इस बार मेजबानी भी कर रहे है। यह गौरव इस बार खरगोन को भी मिला है कि राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं के आयोजन के लिए हम तैयार है। इस दौरान एसपी श्री धर्मवीर सिंह ने कहा की खेलो इंडिया का आयोजन होना अभूतपूर्व है। इस दौरान जनजातीय कार्य विभाग के सहायक आयुक्त श्री प्रशांत आर्य, जिला शिक्षा अधिकारी श्री हेमेन्द्र वरणेरकर, जिला खेल अधिकारी श्रीमती पवि दूबे, तहसीलदार श्री योगेन्द्र मौर्य, मध्यप्रदेश पाठ्यपुस्तक निगम के पूर्व उपाध्यक्ष श्री भागीरथ कुमरावत, खेल विधाओं से जुड़े खिलाड़ी, सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधि, अधिकारी उपस्थित रहे।

मशाल आते देख थम सा गया महेश्वर

सोमवार सुबह से ही महेश्वर नगर में खेलों इंडिया की मशाल की सूचना मिलते ही कौतूहल छा गया। दोपहर 4 बजे स्थानीय उत्कृष्ट विद्यालय के प्रांगण से खिलाड़ियों, अधिकारियो और सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधियो ने हाथों में मशाल थामकर गौरव का अनुभव करते हुए नगर के मुख्य मार्ग से होकर नर्मदा तट पर मशाल पहुंची। नगर की गलियों से खिलाड़ियों द्वारा मशाल और खेलों इंडिया का थीम सांग की आवाज सुनकर नगर थम सा गया। नगरवासियों ने इस खेल आयोजन की मशाल शहर में घूमते हुए देख अपने आप को गौरवान्वित महसूस किया। वही नर्मदा तट पर करीब 2 हजार विद्यार्थियो और खिलाड़ियों ने मां नर्मदा तट स्थित अहिल्या किला गेट की सिढ़ियों पर बैठकर खेलो इंडिया की मशाल का भव्य स्वागत किया। इसके बाद कैनो सलालम के खिलाड़ियों ने नर्मदा में जल क्रिड़ाएँ की। यह देख ऐसा प्रतीत हुआ मानो कैनो सलालम की मेजबानी के लिए महेश्वर तैयार है। इस दौरान एसडीएम श्री अग्रिम कुमार, सीएमओ श्री मनोज शर्मा, जनपद सीईओ श्री पंकज और श्री विक्रम पटेल सहित सैकेड़ों की संख्या में नगर वासी मौजूद रहे।