विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
October 3, 2022

इंदौर में सबसे ज्यादा बिजली मांग दर्ज, मालवा-निमाड़ में चार माह में कुल 890 करोड़ यूनिट बिजली आपूर्ति।

मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने जारी वित्तीय वर्ष 2022-23 के प्रथम चार माह में अब तक कुल 890 करोड़ यूनिट बिजली का गुणवत्तापूर्वक वितरण किया है। इंदौर शहर में इन चार माहों के दौरान औसत 22 फीसदी वृद्धि रही। इंदौर शहर में चार माह के दौरान कुल 130 करोड़ यूनिट बिजली वितरित हुई हैं।
मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी इंदौर के प्रबंध निदेशक श्री अमित तोमर ने बताया कि चार माह के दौरान इंदौर शहर में 22 फीसदी बिजली की मांग गत वर्ष समान अवधि की तुलना में ज्यादा रही। इसी के अनुरूप बिजली वितरित हुई।

चार माह में इंदौर शहर में 130 करोड़ यूनिट यानि प्रति दिन एक करोड़ यूनिट से ज्यादा बिजली का औसत वितरण हुआ। प्रबंध निदेशक श्री तोमर ने बताया कि इंदौर ग्रामीण में 19 फीसदी ज्यादा आपूर्ति हुई। रतलाम, शाजापुर में पौने 12 फीसदी, उज्जैन और देवास में साढ़े 11 फीसदी मांग गत वर्ष की तुलना में ज्यादा रही। श्री तोमर ने बताया कि जारी वित्तीय वर्ष के बीते चार माह में पिछले वर्ष जहां मालवा और निमाड़ में कुल 790 करोड़ यूनिट बिजली का वितरण हुआ था, वह इस वर्ष समान अवधि में 890 करोड़ के करीब रहा है। इस तरह कंपनी क्षेत्र में बारह फीसदी और इंदौर शहर में 22 फीसदी बिजली गत वर्ष समान अवधि की तुलना में ज्यादा वितरित हुई है।

सतत ले रहे फीडबैक


प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के निर्देशानुसार बिजली कंपनी के काल सेंटर के कर्मचारियों के माध्यम से प्रतिदिन 500 उपभोक्ताओं से फीडबैक लिया जा रहा है। फीडबैक में 99 फीसदी से ज्यादा उपभोक्ता सेवाओं से संतुष्ट दिखाई दिए। जिन उपभोक्ताओं के फीडबैक लिए जाते है, इनके मोबाइल नंबर आईटी शाखा से रेंडम आधार पर चय़न किए जाते हैं।
श्री तोमर ने बताया कि इंदौर शहर में गत चार माह के दौरान कुल 130 करोड़ यूनिट, इंदौर ग्रामीण में 135 करोड़ यूनिट, उज्जैन जिले में 85 करोड़ यूनिट, रतलाम जिले में 50 करोड़ यूनिट तथा देवास जिले में 75 करोड़ यूनिट बिजली वितरित हुई है।