विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
September 25, 2022

गांव की सकरी गली से निकल रहे अवैध रेत से भरे ट्रैक्टर, सहमे ग्रामीण, कलेक्टर और एसपी से की शिकायत

भिंड/ पुलिस- प्रशासन , नियम कायदे ताक पर रख रेत माफिया सिंधु नदी का सीना छलनी कर हर रोज लाखों-करोड़ों का रेत निकाल कर राजस्व क्षति पहुंचा रहे हैं और जलीय जीवो का जीवन संकट में डाल रहे हैं साथ ही साथ अवैध रेत ढो रहे ट्रैक्टर ग्रामीणों के लिए काल बन रहे हैंl बुधवार को नयागांव थाना क्षेत्र के ओझा गांव के ग्रामीणों ने भिंड कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक को शिकायत की है।

शिकायत में ग्रामीणों ने बताया कि हमारे गांव में एक सकरी गली है जिसका उपयोग गांव के लोग खेती बाड़ी पशुओं को चराने ले जाने आदी के लिए उपयोग करते हैंl बीते काफी समय से उस गली से होकर नदी से अवैध रेत से भरे ट्रैक्टर निकल रहे हैं ट्रैक्टर सुबह से देर रात तक निकलते हैं जिससे हम सभी ग्रामीण बच्चे बुजुर्ग महिलाएं डरे और सहमे रहते हैं कभी कोई दुर्घटना घटित ना हो जाएl ट्रैक्टर आसपास के गांवों के दबंग लोगों के हैं कई बार ट्रैक्टर चालकों से गांव से होकर ना निकालने को कहा तो उन्होंने जान से मारने और देख लेने की धमकी दी और कहा कि आइंदा ट्रैक्टर रोकने की कोशिश की तो ट्रैक्टर चढ़ा कर मार डालेंगे lबीते दिनों पास के ही गांव डुढियन के शैलेंद्र भदौरिया के साथ रेत माफियाओं द्वारा मारपीट की गई थी मामला थाने में दर्ज होने के बाद न्यायालय में विचाराधीन हैl बीते दिनों गांव के ही जोधा सिंह की भैंस में रेत माफियाओं ने ट्रैक्टर से टक्कर मार दी थी जिससे भैंस का पेट फट गया था lट्रैक्टर चालक नदी से रेत लेकर आते हैं और गांव के पास ही खड़ा कर देते हैं फिर रेत माफियाओं की महफिल जमती है और दारू मुर्गा की पार्टी होती है

और खाली शराब के क्वार्टरो को घरों मैं फेंकते हैं गांव की महिलाएं, बहन, बेटियां डरी और सहमी रहती हैं एवं उनका घर से निकलना दुश्वार हो गया है उन्हें डर सताता रहता है कि कहीं कोई अनहोनी घटित ना हो जाएl मंगलवार की शाम को रेत माफियाओं ने गांव में आकर ग्रामीणों को धमकाया और गालियां दी परेशान होकर ग्रामीणों कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक को शिकायत पर शीघ्र कार्रवाई की मांग की है

इनका कहना है

कल कल ग्रामीणों को बुलाते हैं और जानकारी लेते हैं क्या मामला है

हरजेंद्र सिंह थाना प्रभारी नयागांव