इंदौर मध्यप्रदेश स्वास्थ

इंदौर। एम वाय हॉस्पिटल में निःशुल्क कृत्रिम अंग प्रदाय के स्थायी सेंटर का शुभारंभ 20 नवम्बर को।

इंदौर। एम वाय हॉस्पिटल में निःशुल्क कृत्रिम अंग प्रदाय के स्थायी सेंटर का शुभारंभ 20 नवम्बर को।

इंदौर मध्यप्रदेश। कबीर मिशन समाचार

इंदौर। इंदौर के एम वाय हॉस्पिटल में दिव्यांगजनों को आवश्यकता के अनुसार जयपुर फुट एवं अन्य सहायक उपकरणों के वितरण के लिए स्थायी सेंटर रहेगा। इस सेंटर का शुभारंभ मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधिपति श्री रवि मलिमठ, प्रशासनिक न्यायाधिपति एवं कार्यपालक अध्यक्ष मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर श्री शील नागू , न्यायाधिपति श्री सुजय पॉल एवं उच्च न्यायालय खण्डपीठ इंदौर के प्रशासनिक न्यायाधिपति श्री विवेक रूसिया की गरिमामयी उपस्थिति में 20 नवम्बर को दोपहर 12 बजे किया जाएगा।


उक्त स्थायी सेंटर के शुभारम्भ के अवसर पर 20 नवम्बर से 22 नवम्बर तक दिव्यांगजनों को निःशुल्क कृत्रिम अंग उपलब्ध कराये जाने के लिए वृहद शिविर का आयोजन भी किया गया है। यह कार्यक्रम कार्यपालक अध्यक्ष मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर एवं प्रशासनिक न्यायाधिपति तथा अध्यक्ष उच्च न्यायालय विधिक सेवा समिति खण्डपीठ इन्दौर के मार्गदर्शन एवं निर्देशानुसार मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर एवं उच्च न्यायालय विधिक सेवा समिति इंदौर के संयुक्त तत्वावधान में किया जा रहा है।

दिव्यांगजनों के लिए निःशुल्क कृत्रिम अंग उपलब्ध कराये जाने के लिए भगवान श्री महावीर विकलांग सहायता समिति (जयपुर फुट) जयपुर का स्थायी सेंटर एमवाय हॉस्पिटल इंदौर में रहेगा। इस सेंटर को स्थापित किये जाने हेतु एम.व्हाय. हॉस्पिटल इंदौर एवं भगवान श्री महावीर विकलांग सहायता समिति जयपुर के मध्य एम.ओ.यू. निस्पादित किया गया है। जिसके अनुक्रम में उक्त स्थायी सेंटर के संचालन हेतु एम.व्हाय. हॉस्पिटल इंदौर के परिसर में स्थान उपलब्ध कराया गया है ।


विधिक सहायता अधिकारी उच्च न्यायालय विधि सेवा समिति इंदौर द्वारा बताया गया कि कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए गत दिनों मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर द्वारा वर्चुअल मीटिंग का आयोजन किया गया। इस मीटिंग में श्री राजीव कर्महे सदस्य सचिव द्वारा मध्यप्रदेश खण्डपीठ इन्दौर के क्षेत्राधिकार अंतर्गत आने वाले समस्त उच्च न्यायालय, जिलों के जिला न्यायाधीश/सचिव एवं जिला विधिक सहायता अधिकारी को कार्यक्रम हेतु हितग्राहियों का चयन करने के लिए निर्देशित किया गया। सदस्य सचिव द्वारा कार्यक्रम आयोजन की रूपरेखा एवं तैयारियों के संबंध में संबंधित जिलों से विचार साझा करने के लिए श्री नवीन पाराशर ओ.एस.डी./रजिस्ट्रार से अनुरोध किया गया। श्री पाराशर द्वारा कार्यक्रम के संबंध में बताया गया कि इस पुनीत कार्य के सफल आयोजन हेतु आवश्यक तैयारियाँ पूर्ण की जा चुकी हैं।

जिलों से प्राप्त हितग्राहियों की सूची अनुसार आवश्यक कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण की उपलब्धता सुनिश्चित की जा चुकी है। उक्त कार्य के लिए संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा, पुलिस कमिश्नर श्री हरिनारायण चारी मिश्र, नगर निगम आयुक्त सुश्री प्रतिभा पाल, मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. संजय दीक्षित, एम वाय अस्पताल के अधीक्षक डॉ. पी.एस. ठाकुर का आवश्यक सहयोग उच्च न्यायालय विधिक सेवा समिति इन्दौर को प्राप्त हो रहा है ।
जरूरतमंद नागरिकों से अनुरोध किया गया है कि वे इस शिविर का लाभ लेवे तथा आवश्यकता के अनुसार जयपुर फुट एवं अन्य सहायक उपकरण प्राप्त करे। जयपुर फुट एवं अन्य सहायक उपकरण के लिए प्रत्येक जिले के जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, तहसील विधिक सेवा समिति अथवा उच्च न्यायालय विधिक सेवा समिति इंदौर से संपर्क किया जा सकता है।

About The Author

Related posts