इंदौर। भंवरकुआं चौराहे पर 47.2 करोड़ के दो फ्लायओवर ब्रिज का CM ने किया भूमिपूजन।

इंदौर मध्यप्रदेश। कबीर मिशन समाचार

इंदौर। मुख्यमंत्री जननायक टंट्या मामा भील चौराहा (भवरकुआं) पर 47.27 करोड़ की लागत से प्रस्तावित 6 लेन फ्लायओवर और खजराना चौराहा पर 41.18 करोड़ की लागत से प्रस्तावित 6 लेन फ्लायओवर का भी भूमि पूजन किया। शहर के भंवरकुआ और खजराना में फ्लाय ओवर ब्रिजों का निर्माण होगा। इन प्रस्तावित ब्रिजों का मंगलवार नवंबर को सीएम शिवराजसिंह चौहान ने भूमिपूजन किया। भंवरकुआं चौराहे पर 47.2 करोड़ में ब्रिज बनेगा ब्रिज । खजराना चौराहे पर 41 करोड़ में बनेगा ब्रिज दोनों ब्रिज की निविदा और एजेंसी तय हो चुकी है। इन ब्रिजों के लिए टैंडर के साथ मंजूरी हो चुकी है। ब्रिजों का निर्माण इंदौर विकास प्राधिकरण करेगा। भूमिपूजन कार्यक्रम शाम को सात बजे भंवरकुआं में हुआ। खजराना ब्रिज की आधारशिला वर्चुअल रखी गई। खास बात यह है कि ये दोनों फ्लाई ओवर केवलडेढ़ साल में बन कर तैयार हो जाएंगे।

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

इसके पहले मुख्यमंत्री ने लवकुश चौराहा पर बनने वाले ब्रिज का भूमिपूजन किया था। ब्रिजों की लंबाई-चौड़ाई पूर्व में तय हो चुकी है। तीनों ब्रिज का काम एजेंसियां एक साथ शुरू करेगी। ब्रिजों से यातायात शुरू करने की समयसीमा पांच साल रखी गई है। प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रामप्रकाश अहीरवाल ने बताया कि आईडीए के बजट में 11 ब्रिजों का प्रस्ताव तैयार किया था। इसमें प्राथमिकता वाले तीन चौराहों को शामिल किया था। तीनों चौराहों पर यातायात का अत्यधिक दबाव बना रहता है। ब्रिजों को तैयार करने के पीछे मूल मंशा यहां के यातायात को बेहतर बनाया जाना है।

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

लवकुश चौराहा के ब्रिज का भूमिपूजन होने के बाद मिट्टी परीक्षण के साथ इसकी डिजाइन तय हो गई है। बाधकों को चिन्हित कर बेदखल करने के साथ ही अगले माह से यहां काम शुरू करा दिया जाएगा। यह ब्रिज थ्री लेयर वाला होगा। इसकी चार भुजा होगी। सबसे नीचे सड़क, उसके ऊपर मेट्रो ट्रेन तथा अंत में ब्रिज रहेगा यहां दो भुजा मिलेंगी भंवरकुआ पर प्रस्तावित ब्रिज दो भुजाओं वाला होगा। इसकी एक भुजा नवलखा ब्रिज तो दूसरी भुजा चार पहिया वाहन शोरूम से जुड़ेगी। ब्रिज में बाधक बन रहे भंवरकुआ थाना भवन को जमींदोज किया जा चुका है। शेष बाधक यथावत बने हुए हैं।

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

प्रतिमा हटाने को लेकर चिंता खजराना चौराहा पर दिनभर भारवाहक वाहनों की रेलमपेल मची रहती है। यहां रोटरी पर जायसवाल समाज के आराध्य सहस्त्रबाहु की आदमकद प्रतिमा स्थापित है। भूमिपूजन के बाद प्रतिमा को अन्यत्र विस्थापित करने समाजजनों की सहमति लेना होगी। चार ओवरब्रिज की तैयारी आईडीए शहर में ट्रैफिक सुधार के लिए वित्तीय वर्ष में चार फ्लाई ओवर बनाएगा। आइडीए अध्यक्ष जयपालसिंह चावड़ा के अनुसार, आइडीए शहर में ट्रैफिक सुधार के लिए इस वित्तीय वर्ष में चार फ्लाई ओवर बनाएगा। जिसमें लवकुश चौराहे पर कामशुरू किया जा चुका है। भंवरकुआं और खजराना के लिए भी एजेंसी तय कर दी गई है। प्रारंभिक कार्य शुरू हो चुके हैं।

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

मंगलवार को मुख्यमंत्री ने शिलान्यास कर कार्य को गति प्रदान कर दी। खजराना ब्रिज से राहत मिलेगी खजराना ब्रिज की लंबाई 625 मीटर होगी। बीआरटीएस लेन के दोनों ओर तीन-तीन लेन ब्रिज बनेगी। इस चौराहे पर भीड़ के कारण प्रतिदिन 2 लाख लोग जाम से प्रभावित होते हैं। विश्वविद्यालय, शिक्षण संस्थाओं के साथ कई कॉलोनियों को भी मिलेगी बड़ी राहत । ब्रिज पीएससी व स्ट्रील गर्डर तकनीक से बनेगा और डायनामिक लाइटिंग लगाई जाएगी।