इंदौर- शिक्षा विभाग द्वारा संचालित योजनाओं एवं कार्यक्रमों के बेहतर क्रियान्वयन के लिये इंदौर जिले को मिला ए ग्रेड

कबीर मिशन सामाचार/इन्दौर,

इंदौर। प्रदेश में गुणवत्तापरक शिक्षा उपलब्ध कराने की दृष्टि से अनेक प्रयास किये जा रहे हैं। इस हेतु विद्यालयों में शिक्षकों की उपलब्धता, प्रशिक्षण, आवश्यक अधोसंरचना, विभिन्न शासकीय योजनाओं की हितग्राहियों तक समय पर पहुंच आदि कार्य प्राथमिकता से किये जा रहे हैं। इसी क्रम में लोक शिक्षण संचालनालय मध्यप्रदेश द्वारा जिलों में संचालित गतिविधियों, योजनाओं एवं विभिन्न कार्यक्रमों की समीक्षा के आधार पर जिलों की ग्रेडिंग निर्धारित की गयी है।

जिसमें 19 जिलों को ए ग्रेड में शामिल किया गया है, जिसमें इंदौर जिले को भी ए ग्रेड मिला है। आयुक्त लोक शिक्षण ने बताया कि जिला स्तरीय ग्रेडिंग निर्धारित करने में प्रमुख रूप से वार्षिक परीक्षा परिणाम, सी. एम. हेल्पलाइन के प्रकरणों का निराकरण, व्यावसायिक शिक्षा हेतु नामांकन, निष्ठा प्रशिक्षण, इन्सपायर अवार्ड, विद्यालयों में टेबलेट की उपलब्धता, ब्रिजकोर्स, नामांकन एवं ठहराव इत्यादि मानकों में जिलों के प्रदर्शन की समीक्षा की गयी, तदनुसार उनका क्रम सुनिश्चित किया गया है।

आगामी तिमाही में “स्कूल स्तर पर आईसीटी योजना का क्रियान्वयन, छ: माही परीक्षा परिणाम, छात्रवृत्ति वितरण, परिवेदना निवारण, उपचारात्मक कक्षाओं का आयोजन, शैक्षणिक मॉनीटरिंग, वित्तीय व्यय” आदि बिन्दुओं को शामिल करते हुए पुनः समीक्षा करके ग्रेडिंग निर्धारित की जायेगी।