एक तरफा प्यार में हत्या, प्रेमी को मारकर गाड़ने वालेे मास्टरमाइंड आशीक पटेल सहित 5 गिरफ्तार

रिपोर्ट पवन सावले
कबीर मिशन समाचार
खलघाट (धार)

आक्रोशित लोगों ने धार-पीथमपुर हाईवे किया जाम आक्रोशित लोगो ने की फांसी की मांग, पुलिस कार्रवाई पर भी उठे सवाल
हत्‍याकांड में अब तक 6 आरोपी गिरफ्‍तार, धार-पीथमपुर हाईवे पर 15 किलोमीटर लंबा जाम
धार,पीथमपुर। औद्योगिक नगरी के ग्राम धन्‍न्‍ड में एक तरफा प्‍यार में हुए सनसनीखेज हत्‍याकांड में पुलिस ने अब तक 6 लोगो को गिरफ्‍तार कर लिया है। हत्‍याकांड से आक्रोश लोगो ने पीथमपुर मार्ग कर चक्‍काजाम कर हत्‍याकांड से जुडे लोगो को फांसी की मांग कर प्रकरण को फास्‍ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई करने की मांग की है। घटना को लेकर पुलिस पर भी आक्रोशित लोगो ने लापरवाही के आरोप लगाए है। चक्‍काजाम से धार पीथमपुर रोड 15 किलोमीटर लंबा जाम लग गया था।

एडीशनल एसपी देवेंद्र पाटीदार के आश्‍वासन के बाद आक्रोशित लोगो ने चक्‍काजाम और धरना खत्‍म किया। प्रशासन ने मुख्‍य आरोपी मास्टरमाइंड आशिक पटेल के अवैध साम्राजय को भी धवस्‍त कर दिया है। सुरक्षा की दृष्टि से क्षेत्र में एडीशनल एसपी देवेंद्र पाटीदार, नगर पुलिस अधीक्षक तरुणेंद्र सिंह बघेल, एसडीएम रोशनी पाटीदार सहित 6 थानो के प्रभारी सहित बल और वर्ज वाहन मौके पर तैनात है।
पुलिस पर लगे लापरवाही के आरोप
हत्‍याकांड को लेकर सेक्‍टर 01 पुलिस और टीआई पर गंभीर आरोप लगे है, आक्रोशित लोगो ने आरोप लगाए है कि पूरा मामला संज्ञान में होने के बावजूद भी पुलिस ने कायमी करने में देरी की है। साथ ही गुम हुए रुपेश बिर्ला को गुम हुए दो दिन से अधिक होने के बावजूद भी पुलिस ने उसे ढूढने का प्रयास तक नही किया। परिजनों द्वारा अपहरण की शिकायत होने के बाद भी पुलिस ने कायमी करने में देरी की जिससे आरोपियों ने हत्‍याकांड को अंजाम दिया। आक्रोशित लोगो ने सेक्‍टर 01 टीआई लोकेश भदौरिया को हटाने की मांग को लेकर अड़े रहे।

धार-पीथमपुर मार्ग पर लगा 15 किलोमीटर लंबा जाम
हत्‍याकांड को लेकर आक्रोशित लोगो ने धार-पीथमपुर मार्ग पर चक्‍काजाम कर दिया। आक्रोशित लोग पुलिसकर्मियों को बर्खास्‍त, दो आरोपियों के नाम बढाने, मृतक के परिजनों को 10 लाख रुपए का मुआवजा, घर के सदस्‍य को नौकरी, प्रकरण को फास्‍ट ट्रैक कोर्ट में चलाने और आरोपियों को फांसी की मांग पर अडे रहे। प्रदर्शन के कारण धार-पीथमपुर मार्ग पर 15 किलोमीटर से अधिक लंबा जाम लग गया। मौके पर आक्रोशित लोगो ने एडीशनल एसपी को एक ज्ञापन भी सौंपा जिसके बाद प्रदर्शन खत्‍म किया। एएसपी ने लोगो को आवश्‍वान दिया कि उनकी बातों को सरकार तक पहुंचा दिया जाएगा।

प्रशासन ने धवस्‍त किया आरोपी का अवैध सामराज्‍य
प्रशासन ने हत्‍याकांड के मुख्‍य आरोपी आशिक पटेल के अवैध सामराज्‍य को धवस्‍त कर दिया। ग्राम धन्‍नडखुदे में आरोपी ने शासकीय भूमि पर मकान बनाकर 15950 वर्ग फीट में मकान बनाकर अतिक्रमण किय था जिसे प्रशासन ने जेसीबी की मदद से धवस्‍त कर दिया है। दोपहर के समय प्रशासन और पुलिस की टीमें मौके पर पहुंची और 100 से अधिक किराएदारों से मकान को खाली कर तीन मंजिले मकान को तोडने की कार्रवाई शुरु की, जिसके बाद आरोपी आशिक के निजी मकान और फैक्‍ट्री पर भी प्रशासन द्वारा तोडा गया।


मारपीट के बाद दफना दिया, पुलिस ने सख्‍ती की तो कबूला जुर्म
पीथमपुर औद्योगिक क्षेत्र के ग्राम धन्नड़ में हुई सनसनीखेज वारदात में मास्‍टरमांइड आशिक पटेल ही निकाला। अपने यहां काम करने वाली युवती को पाने की चाह में ही उसने वारदात को अंजाम दिया है। जानकारी के अनुसार आशिक पटेल के यहां एक युवती काम करती थी, जिसका प्रेम प्रसंग रुपेश बिर्ला के साथ था, जो आशिक को इस कदर नागावार गुजारा कि उसने रुपेश की हत्‍या का मन बना लिया, बाद में अपने साथी अंकुश जैन, दीपक मंडल, रवि मंडल, अखिलेश मिश्रा और सुरेंद्र के साथ के सााथ हत्‍या की प्‍लानिंग भी की। आरोपी ने ही रुपेश बिर्ला का अपहरण किया था जिसके बाद अपने अन्‍य साथियों के साथ बंद कमरे में उसके साथ मारपीट करता रहा, मारपीट के बाद आरोपियों ने रुपेश को गला दबाकर हत्‍या कर दी थी, बाद में उसे आशिक पटेल के घर के ग्राउंड में दफना दिया। मृतक के परिजन थाने में उसकी गुमशुदगी दर्ज करवा कर उसे तलाश करते रहे। परिजनों ने पुलिस को आ‍शिक खान पर शंका होने की बात बताई जिस पर से सेक्‍टर 01 पुलिस ने उसे थाने लेकर आई। सख्‍ती से पुछने पर आरोपी ने अपना जुर्म कबूल लिया और शव को अपने मकान के ग्राउंड पर साथियों के साथ दफनाने की बात बताई। पुलिस ने घटनास्‍थल ने रुपेश बिर्ला का शव बरामद कर पोस्‍टमार्टम के लिए भिजवाया था।