आशा उषा मांगों को लेकर 14 को जिला मुख्यालय पर एक दिवसीय धरना हड़ताल

धरना हड़ताल के दौरान मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन देंगे।

खरगोन। लंबित मांगों को लेकर आशा उषा एवं आशा सहयोगिनी एकता यूनियन (सीटू) खरगोन द्वारा शुक्रवार 11 नवम्बर को विकास खंड महेश्वर के बीएमओ श्रीवास्तव को ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन का मुख्य उद्देश्य 14 नवम्बर को जिला मुख्यालय पर हड़ताल पर रह कर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन करके मुख्यमंत्री के नाम जिला कलेक्टर खरगोन को ज्ञापन सौंपा जाएगा।

वहीं 14 से 19 नवंबर तक आशा उषा सहयोगीनी अपना कार्य बंद रखेगी। एवं जायज़ मागों को लेकर ब्लॉक स्तर पर हड़ताल पर रहेंगी। आशा उषा एकता यूनियन कि ज़िला महासचिव श्रीमती लता हिरवे ने बताया कि धरना प्रदर्शन पर मजबूर हों कर बैठना पड़ रहा हैं। वही यह भी आरोप लगाया कि आशाओं को मात्र 2 हजार रू की छोटी सी राशि मिल रही है। जो की आशाओ को घर परिवार चलाना तथा भरण पोषण पोषण करना मुश्किल हो रहा है।

ब्लॉक अध्यक्ष श्रीमती अंजना हिरवे ने कहा कि प्रदेश सरकार में मुखिया बनकर बैठे हमारे शिवराज मामाजी ने आशाओं को रोजगार देकर भी बेरोजगार बना दिया है। ऐसे में सरकार से हमारी मांग है कि हमे जीने लायक वेतन दिया जाए। और नियमितिकरण किया जाए। यदि हमारी मांगे पुरी नहीं होती है तो आगे आने वाले समय में प्रवेश स्तर पर धरना प्रदर्शन किया जाएगां।

जिसकी सम्पूर्ण जवाबदारी शासन प्रशासन की रहेगी। उक्त ज्ञापन के समय एकता यूनियन की जिला महासचिव लता हिरवे, ब्लाक अध्यक्ष अंजना हिरवे, सारिका चौबे, प्रमिला गागले, प्रमिला सिटोले, यशोदा सनी, मंजू डावर, मुख्य रूप से उपस्थित रही।