परदेशीपुरा।‌ दो पहिया वाहन शोरूम में हुआ लगातार घाटा, उबरने के लिए करने लगा चोरी, चोरी की 02 मोटरसाइकिल 02 एक्टिवा जप्त।V

परदेशीपुरा।‌ दो पहिया वाहन शोरूम में हुआ लगातार घाटा, उबरने के लिए करने लगा चोरी, चोरी की 02 मोटरसाइकिल 02 एक्टिवा जप्त।

परदेशीपुरा इंदौर मध्यप्रदेश। कबीर मिशन समाचार

परदेशीपुरा। पुलिस आयुक्त इंदौर शहर हरिनारायणचारी मिश्र द्वारा संपत्ति संबधी अपराधों की पतारसी हेतु इंदौर पुलिस को निर्देशित किया। उक्त निर्देशों के तारतम्य में अतिरिक्त पुलिस आयुक्त मनीष कपूरिया द्वारा पुलिस उपायुक्त जोन 2 संपत उपाध्याय, सहायक पुलिस उपायुक्त जोन 2 राजेश व्यास, सहायक पुलिस आयुक्त परदेशीपुरा भूपेंद्र सिंह द्वारा अधीनस्थ थाना प्रभारी एंव स्टाफ को इंदौर शहर में हो रहे संपत्ति संबधी घटनाओं की पतारसी कर, वारदातों पर अंकुश लगाने एवं ऐसे आरोपियों की धरपकड़ करने हेतु निर्देशित किया है।
इसी तारतम्य में आज दिनांक दिनांक 1/12/2022 को थाना प्रभारी परदेशीपुरा उपनिरी. सोमनाथ मौर्य को सूचना प्राप्त हुई कि, एक व्यक्ति मालवा मिल जीन, पंचमुखी हनुमान मंदिर के समीप एक हीरो होंडा साईन मोटरसाइकिल जो हीरा नगर से चोरी की गई है, को सस्ते दामों में बेचने की फिराक में है।
सूचना पर परदेशीपुरा उनि ने अपनी टीम के साथ दबिश देकर मुखबिर द्वारा बताए हुलिए के व्यक्ति को मय मोटरसाइकिल MP09 QJ 6588 (हौंडा साईन) सहित पकड़ा।
पकड़े गए व्यक्ति ने उक्त मोटरसाइकिल थाना क्षेत्र हीरा नगर से चुराना स्वीकार किया और अपना नाम अजय पिता देवीलाल चौरसिया उम्र 45 साल निवासी 66 ए शारदा नगर mr10 के पास इंदौर का बताया । वाहन के संबंध में तस्दीक करते इस वारदात में अप.क्. 993/22 धारा 379 आईपीसी पंजीबद्ध होना ज्ञात हुआ।
इसी व्यक्ति से सख्ती से पूछताछ करने पर इसने 1 माह पहले मल्हार आश्रम क्षेत्र से एक्टिवा वाहन चुराना और उसे राजकुमार सब्जी मंडी शौचालय के पास खड़ी करना बताया सूचना व मेमो के आधार पर आरोपित के बताए अनुसार एक हीरो होंडा एक्टिवा क्रमांक MP 09 SV 3148 ग्रे रंग की जप्त की गई इस एक्टिवा वाहन के संबंध में थाना सदर बाजार क्षेत्र में अपराध क्रमांक 341/22 धारा 379 आईपीसी भी पंजीबद्ध होना पाया गया। पूछताछ में आरोपी अजय चौरसिया ने पूर्व में श्री बालाजी मोटर्स के नाम से छोटा बांगड़दा में टू व्हीलर वाहनों का शोरूम खोलना और उसमें फाइनेंस के दौरान सतत घाटा होना तथा तभी से कई फाइनेंस के मामलों में चोरी की संलिप्तता होना और अंततः इसने वाहन चोरी कर अपने घाटे की पूर्ति करने के लिए वाहन चुराना बताया। आरोपी से एक अन्य एक्टिवा और मोटरसाइकिल सीडी डीलक्स भी बरामद हुई है जिस के संबंध में संबंधित थाने का पता किया जा रहा है। आरोपित के विरुद्ध पूर्व में 07 अपराध शहर के विभिन्न थानों में पंजीबद्ध है, जो लूट, डकैती की तैयारी और वाहन चोरी से संबंधित है।
बरामद किए गए 04 वाहनों की कुल कीमत लगभग 3.5 लाख रुपया है ।
थाना परदेशीपुरा के उनि सोमनाथ मौर्य, आर विकास सिंह, प्रमोद द्वारा बड़ी मेहनत एंव लगन से त्वरित कार्यवाही करते माल बरामद किया गया है जाकर सराहनीय कार्य किया गया है।