विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
October 3, 2022

पड़ोसी होने की जिम्मेदारी : एमरॉल्ड कोर्ट के 400 लोगों को इन सोसाइटी वालों ने दी पनाह, भोजन से लेकर मनोरंजन तक का इंतजाम किया

नोएडा – आज नोएडा वालों के लिए एक महत्वपूर्ण दिन हैं। सुपरटेक ट्विन टावर ध्वस्त होने से पहले एमरॉल्ड कोर्ट और एटीएस विजेल सोसाइटी में हाई अलर्ट जारी किया गया है। ऐसे में काफी लोगों से बीती रात को ही सोसाइटी छोड़ दी हैं, लेकिन ऐसे में पडोसी सोसाइटी निवासियों ने मदद का हाथ बढ़ाया हैं। पारसनाथ प्रेस्टीज और सिल्वर सिटी सोसाइटी के निवासियों ने एमरॉल्ड कोर्ट के 400 लोगों को पनाह दी हैं। इतना ही नहीं इन 400 लोगों के ठहरने, भोजन और स्वास्थ्य सुविधा की व्यवस्था भी की गई है। इसके साथ ही टीवी लगवाया गया है। जिससे मनोरंजन और नोएडा ट्विन टावर की सभी खबरें देख सकें।

स्वास्थ्य विभाग भी अलर्ट, अस्पतालो में बने विशेष वार्ड

आज नोएडा के लिए ऐतिहासिक दिन है। सिर्फ नोएडा ही नहीं बल्कि पूरे देश के लिए आज एक ऐतिहासिक दिन माना जा रहा है। आज देश में पहली बार सबसे ऊंची इमारत को ध्वस्त किया गया। नोएडा के सेक्टर-93ए में स्थित सुपरटेक ट्विन टावर रविवार 28 अगस्त 2022 की दोपहर 2:30 बजे जमींदोज हुआ। ट्विन टावर गिराने के दौरान किसी भी आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए नोएडा के अस्पतालों में विशेष वार्ड बनाए गए , सेक्टर-30 के जिला अस्पताल की इमरजेंसी में 5 बिस्तर और सर्जिकल वार्ड में 15 बिस्तरों का वार्ड बनाया गया है। कोविड अस्पताल में 28 बिस्तर आरक्षित किए गए हैं।

गौतमबुद्ध नगर के पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने बताया कि ब्लॉस्ट वाले दिन जो एक्सक्लूजन जोन बनाया गया है, उसे पूरी तरह से खाली करवाया जा चुका है। सुरक्षा-व्यवस्था और ट्रैफिक को लेकर पुलिस की तैयारियां पूरी हैं। वहीं बताया कि इसके ध्वस्तीकरण करने के लिए कंट्रोल रूम मे कुल 6 लोगों की अनुमति थी। जिसमें तीन अफ्रीकन एक्सपर्ट, एडिफिस के प्रोजेक्ट मैनेजर, एक इंडियन लोकल ब्लास्टर और एक पुलिस ऑफीसर मौजूद थे। ध्वस्तीकरण के बाद जो धूल उढी़ उसको पानी के फब्बारे से शांत किया जाएगा।

लोगों की सुविधा के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी

गौतमबुद्ध नगर के डीसीपी (यातायात) गणेश साहा ने बताया कोई भी दिक्कत होने पर लोग मोबाइल नम्बर 9971009001 से संपर्क कर सकते हैं।