विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
विज्ञापन के लिए संपर्क करें - 8462072516
September 25, 2022

शाजापुर| शाजापुर के बावलियाखेड़ी के मामले की पुख्ता खबर। लड़की लक्ष्मी मेवाड़ा स्कूल गयी थी किसी कलश यात्रा मे नही जाने पुरा सच।

कबीर मिशन समाचार। राजकुमार

शाजापुर। जिले के छोटे से गाँव बावलिया खेड़ी की कुछ दिन पहले की घटना है की एक मालवीय समुदाय की लड़की को राजपूत समुदाय के लोगो ने स्कूल जाने से रोका जिसको लेकर लड़की के परिवार के साथ भी मारपीट हुई व परिवार के लगभग 20 लोगो को चोंट आयी। यह खबर बड़े बड़े अखबार व चैनल पर भी आयी। समाज मे अन्याय की लड़ाई लड़ने वाले कुछ संघठन सामने आये ओर ज्ञापन, आंदोलन जैसी प्रक्रिया स्टार्ट हुई। इस बिच आज फिर कुछ अखबारो ओर यूट्यूब चैनलो पर खबर दिखाई जा रही की लड़की को रोकने की खबर झूठी है ओर उस दिन लड़की स्कूल नहि गयी थी बल्कि कलश यात्रा मे गयी थी।


हमारी कबीर मिशन की टीम ने आंतरिक सर्च किया ओर पता चला की मामले को दबाने की कोसिस की जा रही है। लड़की उस दिन स्कूल गयी थी जिसके भी सबूत् मिले ओर प्रिंसिपल ने स्वयं कहा की छात्रा लक्ष्मी मेवाड़ा 23 जुलाई को स्कूल आयी थी ओर दिन भर स्कूल टाइम तक स्कूल मे ही रही।
इससे साफ स्पष्ट होता है की लक्ष्मी मेवाड़ा स्कूल गयी थी किसी कलश यात्रा मे नही ।


आपको बता दे की जिस कलश यात्रा का वीडियो वाइरल हो रहा है वो पुराना है, क्योंकि 23 जुलाई को भारी वर्षा हुई थी सभी नदी नाले उफान थे इसी स्थिति मे इतनी भीड़ संभव नही कलश यात्रा हुई थी पर लक्ष्मी मेवाड़ा स्कूल मे थी यात्रा मे नही जो वीडियो वाइरल हो रहा है, वो फैक/पुराना है।

हमारी रिपोर्ट से ये साफ स्पष्ट हो रहा है की शाजापुर के बावलियाखेड़ी की लड़की लक्ष्मी मेवाड़ा सतगाँव के शा. उ. मा. विद्यालय सतगाँव मे उपस्थित थी ओर बालसभा मे भी उपस्थित थी।