नरसिंहपुर मध्यप्रदेश

चीचली नगर परिषद के गरीब परिवारों के घरों में बारिश के पानी से हो रहा बुरा हाल

चीचली नगर परिषद के गरीब परिवारों के घरों में बारिश के पानी से हो रहा बुरा हाल

मूलचन्द मेधोनिया सहसंपादक कबीर मिशन समाचार पत्र भोपाल मोबाइल 8878054839


चीचली । अक्टूबर माह में हो रही बेमौसम बारिश से चीचली के गरीबों का बुरा हाल है। अभी दो दिन पहले तेज हो गई बारिश के कारण चीचली के डोंगा मुहल्ला में रह रहे अनुसूचित जाति के वंशकार समाज के अधिकतर मकान में बारिश का पानी घरों में प्रवेश करने के कारण उनके खान पीने की खाद्य सामग्री नष्ट हो गई। तथा गरीबों को भूखे पेट रहना पड़ा।


चीचली नगर परिषद में अभी नये पार्षद निर्वाचित होकर यहां के मंसूर अली जो कि बबलू सिंघानिया के नाम जाने जाते है। चीचली के प्रत्येक जाति वर्ग के नागरिकों ने बबलू सिंघानिया को जिताने का निर्णय लेकर एक उम्दा जनप्रिय पार्षद बनाने काम किया। जो कि नगर में विकास कार्यों को अंजाम देगें। गरीबों की पार्षद से यही उम्मीद रहती है कि वह रोड, नाली और साफ-सफाई के काम को प्राथमिकता दे।


चीचली के अनेक नागरिकों के घरों में पानी घुस जाने पर और घरेलू सामान व नष्ट हो जाने पर यहां तक की पत्रकार मूलचन्द मेधोनिया के घर में भी रोड, नाली का पानी चले जाने पर मेधोनिया के द्वारा सुबह 7 बजे जनप्रिय पार्षद श्री सिंघानिया को फोन लगा कर निवेदन किया कि आप आकर स्थिति का जायजा कर ले। क्योंकि मेरे घर के सामने मुख्य सड़क सीमेंट का है। लेकिन घर सामने नाली या नाला न होने के कारण हमारे घर की बुरी स्थिति है। श्रीमान बबलू सिंघानिया शायद अपनी व्यस्तता के कारण नहीं आये। लेकिन उन्होंने कहा कि मैं शीघ्र परिषद से दो कर्मचारियों को भेज कर नाली खोदने की व्यवस्था कराता हूँ। दो कर्मचारी की जगह एक कर्मचारी आया जिसने केवल पानी निकासी का काम किया। लेकिन नाली की व्यवस्था अभी भी नही? नगर के अन्य वार्डों में अनुसूचित जाति के गरीबों के घरों की खबर मिलने पर नगर के कोई पार्षदों के न जाने पर लोगों ने पत्रकारों को भी हाल देख कर समस्या उठाये का निवेदन किया।

कोई प्रतिनिधि और पत्रकारों को न जाने पर चीचली निवासी वरिष्ठ पत्रकार मूलचन्द मेधोनिया ने स्वयं जाकर अनुसूचित जाति और जनजाति के लोगों की स्थिति देखी की उनके घरों में घुटने – घुटने पानी घरों में भरा हुआ है। न रोड है, न नाली का कोई प्रबंध है गरीब परिवारों के सभी लोगों को भूखे पेट रहना पड रहा है। भूख से छोटे बच्चों के हाल बुरे थे। जो देख नहीं जा रहे थे। मेधोनिया ने अध्यक्ष महोदय के न आने पर चीचली नगर परिषद के सीएमओ श्रीवास्तव जी से मोबाइल लगाकर समस्या बताने के लिए अनेक बार फोन लगाया। लेकिन उन्होंने पत्रकार मूलचन्द मेधोनिया का फोन नहीं उठाया। शायद वह किसी पत्रकारों के फोन उठाना उचित न समझा हो। क्योंकि अध्यक्ष परिषद बबलू सिंघानिया को सुबह मूलचन्द मेधोनिया उनसे फोन कर बात कर चुके थे।
नगर चीचली के आम गरीब लोगों ने परिषद अध्यक्ष से अपेक्षा की है वह नगर के रोड नाली बनवाने की शीघ्र स्वीकृति कर बनवाये।

About The Author

Related posts