क्राइम देश-विदेश भिंड मध्यप्रदेश

जिस बहू का अंतिम संस्कार कर दिया 50 दिन बाद पता चला बहू तो जिंदा है… लाड़ली बहना योजना के 1250 रू निकाले तो पकड़ी गई

जिस बहू का अंतिम संस्कार कर दिया 50 दिन बाद पता चला बहू तो जिंदा है… लाड़ली बहना योजना के 1250 रू निकाले तो पकड़ी गई

कबीर मिशन समाचार जिला भिंड।

भिंड । इन दिनों ऐसे मामले मीडिया की सुर्खियां अधिक बन रहे हैं जिनमें परिवार के लोग जिस व्यक्ति का अंतिम संस्कार कर आते हैं, जिसके फोटो पर माला पहनाते हैं, जिसके लिए 13 दिन तक मातम मनाते हैं, बाद में पता चलता है कि वह तो जिंदा है… ऐसा ही चकरघिन्नी करने वाला मामला अब मध्यप्रदेश के भिंड की एक बहू का सामने आया… जिस बहू का लगभग 50 दिन पहले ही अंतिम संस्कार करके आए थे, जिस परिवार पर कलंक लगते हुए इस बात का केस भी चला कि ससुराल वालों ने बहू को जलाकर मार डाला… वह बहू नोएडा में घूमते मिली… मजे की बात यह है कि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने जो लाड़ली बहना योजना शुरू की थी जिसमें महिलाओं को फिलहाल 1250 रुपए मिल रहे हैं,

उस योजना ने ही ”भगोड़ी बहू” का भंडाफोड़ कर दिया… दरअसल, मीडियाई खबरों की मानें तो यहां के मेहगांव थाना पुलिस को लगभग डेढ़ महीने पहले यह सूचना मिली कि ग्राम मढ़रौली के पास एक महिला का अधजला शव पड़ा है… परिवार के लोगों ने महिला के रूप में शव की पहचान भी की… ससुराल वालों ने जैसे ही शव की पहचान की और मायके वालों को इसकी खबर लगी तो उन्होंने महिला को जान से मारने का आरोप लगाया और पुलिस में शिकायत की,

जिसके बाद पुलिस ने ससुराल पक्ष पर धारा 302 के तहत प्रकरण भी दर्ज कर लिया… महिला का अंतिम संस्कार होने के बाद ससुराल पक्ष को आए दिन सख्त पुलिसिया पड़ताल का सामना भी करना पड़ता था… ससुराल वाले भी दिन-रात यही सोचते थे कि आखिर बहू को किसने जलाकर मार डाला..? वहीं मायका पक्ष भी यह यकीन कर चुका था कि अब उनकी बेटी इस दुनिया में नहीं रही…

फिर एक दिन महिला का पति उस वक्त चकरघिन्नी हो गया तब उसके पास एक मैसेज आया, जिसमें यह बताया गया था कि उसकी पत्नी के अकाउंट से पैसे निकले हैं… पति के मोबाइल पर मैसेज इसलिए आया था क्योंकि महिला के अकाउंट (जो उसने लाड़ली बहना योजना के लिए खुलवाया था) में पति का मोबाइल नम्बर लिंक था… इसके बाद वह तुरंत ही भागकर पुलिस की शरण में पहुंचा… अब पुलिस भी हैरत में थी कि जिस महिला की मौत हो चुकी है वह महिला फिंगर प्रिंट के जरिए कैसे लाड़ली बहना योजना के पैसे निकाल सकती है..?

दाल में कुछ काला जान पुलिस की एक टीम मथुरा पहुंची और वहां जोर-शोर से महिला की ढुंढाई शुरू की… पुलिस ने वहां पहुंची जहां से महिला ने पैसे निकाले थे और जब उसने सीसीटीवी फुटेज देखे तो पुलिस के भी पैरों तले जमीन खिसक गई… यह वही महिला थी जिसका अंतिम संस्कार करीब 50 दिन पहले ही हुआ था… इसके बाद पुलिस ने पूरे मथुरा में महिला को ढूंढा, लेकिन वह मथुरा में नहीं मिली… फिर भी पुलिस ने हार नहीं मानी और महिला की मिली लोकेशन के आधार पर पीछा करते-करते वह नोएडा पहुंच गई… यहां पुलिस को पता चला कि उक्त महिला किसी मोबाइल पैकिंग की कम्पनी में बकायदा नौकरी कर रही है… कई दिनों की मशक्कत के बाद पुलिस के हत्थे उक्त महिला गत 25 जून को चढ़ ही गई…

जब पुलिस ने उक्त महिला से पूछताछ की तो उसने बताया कि मुझे अकेले रहना ही पसंद है और मैं तो शादी भी नहीं करना चाहती थी… घर वालों ने ही मुझे जबरन विवाह बंधन में बांधा… इसलिए वह सब कुछ छोड़कर भाग गई… एक और हैरत की बात यह है कि इस महिला का एक बेटा और एक बेटी भी है… इधर, भिंड पुलिस यह सोच-सोचकर चकरघिन्नी हो रही है कि जिस अधजली महिला का करीब 50 दिन पहले अंतिम संस्कार हुआ वह आखिर कौन थी..?

About The Author

Related posts