इंदौर क्राइम देवास देश-विदेश मध्यप्रदेश राजनीति समाज

देवास। जातिवाद। फेसबुक पर धमकी देते हुए कहा कि तेरे नाम में से “सिंह” ‘सरनेम’ हटा ले वरना…

सरनेम में सिंह लगाने पर गांव के दबंगों ने दलित परिवार को दी जान से मारने की धमकी

यह भी पढ़ें ।

अखिल भारतीय बलाई महासंघ ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय में सौंपा आवेदन

देवास। कबीर मिशन समाचार।

यह भी पढ़ें।

नाम के साथ सरनेम में सिंह लगाने की बात पर एक दलित परिवार को गांव के दबंगों ने अभद्र व्यवहार करते हुए जान से मारने की धमकी देने का मामला सामने आया है। जिसकी शिकायत अखिल भारतीय बलाई महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज परमार के निर्देश पर शहर अध्यक्ष एड. संदीप सुनेल के नेतृत्व में आवेदक मदनलाल चौहान के साथ गुरूवार को देवास पुलिस अधीक्षक कार्यालय में एडीशनल एसपी को आवेदन सौंपकर की।

पीडि़त मदनलाल चौहान ने अपने आवेदन में बताया कि मैं जाति से बलाई हूँ और जिले की टोंकखुर्द तहसील के ग्राम नानुखेड़ी में निवास करता हूँ। मेरे गांव में सुरेन्द्र सिंह, वीरेन्द्र सिंह एवं नरेन्द्र उर्फ नारू सिंह भी रहते है। मेरे पुत्र का नाम सुरजपाल सिंह चौहान है। गांव के इन दबंगों ने मेरे पुत्र को दिनांक 02/08/2023 को सोशल मीडिया फेसबुक पर धमकी देते हुए कहा कि तेरे नाम में से सिंह सरनेम हटा ले।

सिंह सरनेम हम लोगों मे ही लगता है जो कि ऊंची जाति के लोग है, तु तो निची, तुच्छ जाति का है। अगर तु सिंह सरनेम का उपयोग करेगा तो तुझे एवं तेरे परिवार वालो को जान से खत्म कर देगें। इस धमकी की जानकारी जब सूरजपाल ने अपने पिता व परिवार को दी। तो सूरजपाल के पिता मदनलाल गांव के दबंगों के पास पहुंचे। जहां दबंगों ने उनका रास्ता रोककर जाति सूचक शब्द कहें और पूरे परिवार को जिंदा जलाकर जान से मारने धमकी दी।

जिससे आवेदक व उसका परिवार डरा व सहमा हुआ है। बलाई महासंघ ने आवेदन देकर मांग की है कि आवेदक मदनलाल व उसके परिवार की जानमाल की रक्षा करते हुए उक्त मामले की जाँच कर आरोपियों पर उचित व दंडात्मक कार्यवाही की जाए।

यह भी पढ़ें

इस अवसर पर बलाई महासंघ के दीपक चौहान, रोहित चौहान, भारत चौहान, विशाल परमार, अभिषेक चौहान, कान्हा अहिरवार, मयंक विशाल सोलंकी, निलेश चौहान, अनिल डाबी आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।

About The Author

Related posts