बदमाशों के जानलेवा हमले से गंभीर घायल मेघवाल समाज के जिला अध्यक्ष डाॅ.रमेश वर्मा की अस्पताल मे इलाज के दौरान आज मृत्यु हो गई।

कबीर मिशन:- संतोष कुमार सोनगरा आगर जिला प्रतिनिधि
आगर – जिले में फिर अनुसूचित जाति के व्यक्ति पर जान लेवा हमला हुआ इलाज के दौरान अस्पताल में मौत।
खबर बहुजन समाज को मिलते ही सुबह से ही सुसनेर पहुंचने लगे सेंकड़ों लोग लगाया चोराहे पर चक्का जाम। समाजजनों ने बदमाशों के मकानों को तुरंत तोड़ने की मांग की । 15/12/2022 के दिन डाॅ.रमेश वर्मा को बदमाशों ने किटखेड़ी के पास घात लगाकर प्राण घातक हमला कर दिया था। जिसमें हमले में वर्मा को गंभीर चोंट आई थी। गंभीर हालत में परीजनो ने अस्पताल में भर्ती कराया। उज्जैन निजी अस्पताल में इलाज के दौरान आज डाॅ. वर्मा की मोत हो गई। हमला करने वाले छः लोगों में से अकरम,सलीम,अरमान इन तीनों अपराधियों को पुलिस ने पकड़ कर जेल भेजा । प्रदर्शनकारियों ने इन तीनों के मकानों पर शिवराज का बुल्डोजर चलाकर तुरंत मकानों को तोड़ा जाए मांग रखी । घर वालों को 1 करोड़ रुपए का मुवावजा दिया जाए । वो परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दिया जाए । डाॅ. रमेश वर्मा की पत्नी को पेंशन भी दी जाए । घटना में संलिप्त और तीन अपराधियों पर भी धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर तुरंत पकड़कर फास्ट रेक कोर्ट में प्रकरण चलाया जाए। उज्जैन से वर्मा की लाश दोपहर दो बजे सुसनेर चौराहे पर लाई गई और सड़क पर शव को रखकर मांगों को लेकर देर रात तक डटे रहे परिवार सहित बहुजन संगठन के कार्यकर्ता।

तो दुसरी तरफ डीजे के साथ गानों पर थिरकते दिखे बीजेपी कार्यकर्ता । नवनियुक्त बीजेपी जिला अध्यक्ष चिंतामण राठौर का अध्यक्ष बनने के बाद नगर में प्रथम बार आगमन पर स्वागत कार्यक्रम रखा था बीजेपी कार्यकर्ताओं ने।


घटना ठेके पर एक तालाब में डाॅ.रमेश वर्मा ने मछली पालन कर रहे थे। तभी जबरन मछली पकड़ने अपराधिगण आया करते थे। जिसकी शिकायत भी दर्ज करवा कर सुरक्षा की मांग पुलिस प्रशासन से की थी ।

देर रात तक भीड़ कम होने पर पुलिस प्रशासन ने लाठीचार्ज कर प्रदर्शनकारियों को तितर बितर कर लाश को डाॅ.रमेश वर्मा के स्थानीय गांव में भेज दिया गया। शव का अंतिम संस्कार सुबह किया जाएगा।