आगर-मालवा शिक्षा

जिले के सभी शासकीय स्कूलों में अनुशासन मेंटेन रखें – कलेक्टर श्री राघवेंद्र सिंह

जिले के सभी शासकीय स्कूलों में अनुशासन मेंटेन रखें – कलेक्टर श्री राघवेंद्र सिंह

शिक्षक बिना कारण के अनुपस्थित नहीं रहे


कलेक्टर ने स्कूल शिक्षा विभाग की बैठक लेकर की समीक्षा


कबीर मिशन – संतोष कुमार सोनगरा जिला ब्यूरो चीफ आगर मालवा


आगर मालवा 14 सितंबर। जिले के सभी शासकीय स्कूलों में अनुशासन मेंटेन रखें, स्कूल समय पर खुले और समय पर बंद हो, सभी शिक्षक भी समय पर उपस्थित होकर अध्यापन करवाए, यह निर्देश कलेक्टर श्री राघवेंद्र सिंह ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित स्कूल शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में जिले के सभी शासकीय स्कूलों के प्राचार्यां को दिए। कलेक्टर ने प्राचार्यों से कहा कि एक प्राचार्य का अपने अधीनस्थ कर्मचारियों में जो सम्मान और डर रहता है, उसे बरकार रखे, स्वयं अनुशासित रहकर अपने अधीनस्थकर्मियों को अनुशासन में रहने तथा बच्चो को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने हेतु पाबंद करें। स्कूलों में बच्चों को अच्छा वातावरण दें ताकि वे स्वयं स्कूल आने को उत्साहित रहे।

कलेक्टर ने सभी प्राचार्य को निर्देशित किया कि अधीनस्थ शिक्षक पूर्व से अवकाश स्वीकृत करवाकर ही अवकाश पर जाए, बिना कारण के अवकाश पर नहीं जाए, अवकाश रजिस्टर मेंटेन करें, उन्होंने हिदायत दी कि सही-सही अवकाश रजिस्टर मेंटेन नहीं करने पर प्राचार्य एवं बिना अवकाश स्वीकृति के अवकाश पर रहने वाले शिक्षकों के विरुद्ध निलंबन की कार्रवाई की जाएगी।कलेक्टर ने कहा कि सभी प्राचार्य अपनी-अपनी शालाओं के परीक्षा परिणाम बेहतर लाने के प्रयास करें, स्कूलों में शत-प्रतिशत बच्चों और शिक्षको की उपस्थिति सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि बोर्ड परीक्षाओं के लिए शिक्षक बच्चों के लिए अच्छी मेहनत करें ताकि स्कूल के परिणाम भी अच्छे आए, बच्चों के पालको को भी परीक्षा की तैयारी को लेकर जागरूक करें, जिससे कि बच्चे अभी से बोर्ड परीक्षाओं के लिए सीरियस हो जाए।

कलेक्टर ने गृह प्रवेश सर्वे अभियान अंतर्गत जिले से पलायन करने वाले बच्चों का सर्वे कर पलायन का कारण सहित सूची उपलब्ध कराने के निर्देश सभी बीआरसी को दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि स्कूलों में साइंस लैब व्यवस्थित संचालित कर बच्चों को प्रैक्टिकल करवाये, जिन स्कूलों का परीक्षा परिणाम वर्ष 2022-23 में 30 प्रतिशत से कम रहा है, बीआरसी उनका निरीक्षण कर परीक्षा परिणाम कम आने के कारणों को पता कर चालू सत्र में परीक्षा परिणाम अच्छे लाने के प्रयास करें।

कलेक्टर ने स्कूल शिक्षा विभाग अंतर्गत प्रचलित निर्माण कार्यों की समीक्षा कर संबंधित को निर्देशित किया कि सभी निर्माण कार्य समय-सीमा में गुणवत्ता के साथ पूर्ण करवाए। उन्होंने निर्देशित किया की जिन दिव्यांग छात्रों के दिव्यांग प्रमाण पत्र नहीं बने हैं उनके दिव्यांग पत्र बनवाया जाएं तथा शासन की योजनाओं का लाभ उन्हें प्राथमिकता से मिलें। कलेक्टर ने बैठक में साइकिल राशि वितरण, ड्रेस वितरण, मिड डे मील, स्कूल भवन निर्माण कार्य, गृह प्रवेश अभियान, नामांकन, मेंटरिंग एप, एफएलएन अन्तर्गत कक्षा 1 से 2 तक के बच्चों को बुनियादी साक्षरता और संख्याज्ञान के निर्धारित उद्देश्यों के पूर्ति हेतु एफएलएल मेला आदि की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दिए।

बैठक में सीईओ जिला पंचायत श्रीमती हरसिमरनप्रीत कौर ने सभी बीआरसी को निर्देश दिए कि शासकीय उचित मूल्य दुकानों से मिड-डे-मील के खाद्यान्न का उठाव करवा लें। जिले के सभी शासकीय स्कूलों में बच्चों को गुणवत्तापूर्ण मिड-डे-मील मिलें, यह सुनिश्चित करें। प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी आरजी शर्मा, निपुण प्रोफेशल जया लक्ष्मी, समस्त बीआरसी, बीआरसी, एपीसी एवं स्कूलों के प्राचार्य उपस्थित रहे।

About The Author

Related posts