मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल की बैठक संपन्न

कबीर मिशन समाचार/मंदसौर,

संवाददाता बोरना कि रिपोर्ट

मंदसौर ! 5 जनवरी 23/ मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल के अध्यक्ष श्री हेमंत तिवारी की अध्यक्षता में एक विशेष बैठक सुशासन भवानी सभागृह में आयोजित की गई बैठक के दौरान अध्यक्ष द्वारा सख्त निर्देश प्रदान किए गए कि श्रम विभाग योजनाओं का व्यापक प्रचार प्रसार करें। यह प्रचार प्रसार हर पंचायत स्तर तक हो। जिससे लोगों को श्रम विभाग की योजनाओं के बारे में जानकारी पता चल सके तथा वे इन योजनाओं का लाभ ले सके। इस दौरान अध्यक्ष श्री तिवारी ने 100 वैवाहिक जोड़ों की सहायता राशि जो कुछ समय से अप्राप्त थी, तत्काल स्वीकृत कराके 100 जोड़ों को 50 लाख 96 हजार का हित लाभ प्रदान किया। श्रमिक आश्रय सेड जगह जगह पर बनाएं। जिससे श्रमिक आसानी से विश्राम कर सके।

श्रमोदय विद्यालय संचालित करें। खिलाड़ियों को प्रोत्साहन राशि भी प्रदान करें। जिससे खिलाड़ियों का प्रोत्साहन बड़े। आवास के अंतर्गत श्रमिक को अलग से 1 लाख 50 हजार रुपए की राशि प्रदान की जाती हैं। वह भी लाभ श्रमिकों को प्रदान करें। सामूहिक विवाह के अंतर्गत अधिक से अधिक लोग लाभान्वित हो। इसके लिए व्यापक प्रचार करें। इसके साथ ही सामूहिक विवाह में आयोजक को भी अलग से 6 हजार रुपए प्रदान किए जाते हैं। बैठक के दौरान अध्यक्ष श्री तिवारी द्वारा विशेष तौर पर कहा गया कि सरकार के द्वारा जनता के पास जाकर स्वयं मदद की जा रही है। हर जिले में मंडल के माध्यम से भ्रमण हो रहा है तथा जनता की मदद की जा रही है। अन्य राज्यों की योजना जो श्रमिकों के लिए कल्याणकारी हैं। उनको भी राज्य में लाया जाएगा। अगर श्रमिक को फंड की जरूरत होती है, तो तत्काल योजना के माध्यम से भुगतान किया जाता है। श्रमिक की मृत्यु होने पर तत्काल चार चार लाख रुपए की मदद की जाती है। इसके साथ ही जिले में श्रमिकों के लिए आयुष्मान कार्ड बनाने में बेहतर काम किया है। इसके लिए प्रशासन की प्रशंसा की। बैठक के दौरान नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती रमा देवी बंसी लाल गुर्जर, कलेक्टर श्री गौतम सिंह, अपर कलेक्टर श्री आरपी वर्मा सहित श्रम विभाग के अधिकारी, कर्मचारी, कर्मकार मंडल से जुड़े हुए व्यक्ति मौजूद थे। नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा तथा पर्यावरण विभाग के मंत्री श्री हरदीप सिंह डंग द्वारा कहा गया कि रेन बसेरा पंचायत स्तर पर भी स्थापित करें।

पंचायत स्तर पर रेन बसेरा स्थापित करने के लिए सरकार के द्वारा 10 लाख रुपए प्रदान किए जाते हैं। योजनाओं का लाभ अंतिम व्यक्ति तक मिलना चाहिए। इसके लिए प्रत्येक योजना के बारे में गांव-गांव में व्यापक प्रचार प्रसार करें। कर्मकार कल्याण मंडल के माध्यम से भी युवाओं, विद्यार्थियों, मजदूरों एवं आम नागरिकों को कई प्रकार की सहायता प्रदान की जाती है। इसलिए ऐसे व्यक्ति जिनको सहायता की आवश्यकता है उनकी तत्काल मदद करें। प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों को यूपीएससी की तैयारी करने पर कोचिंग की फीस भी कर्मकार मंडल के माध्यम से प्रदान की जाती है। उसका भी लाभ जिले के युवाओं को प्रदान करें।