कुशीनगर मैत्रेय भवन परिसर में जिलाधिकारी रमेश रंजन की अध्यक्षता में भगवान बुद्ध से जुड़े स्थलों के विकास हेतु आवश्यक बैठक आयोजित किया गया

रिपोर्टर योगेश गोविन्दराव तहसील संवाददाता कप्तानगंज कुशीनगर बैठक में बौद्ध व जैन पर्यटन स्थल के विकास को लेकर चर्चा हुई। इस क्रम में महात्मा बुद्ध से संबंधित ग्रामों के ग्राम प्रधानों से महा

त्मा बुद्ध की ऐतिहासिकता व पुरातत्विक साक्ष्यों के संदर्भ में जानकारी ली गई। बैठक में बदुराव, फरेंदहा, उस्मानपुर, सुमही बुजुर्ग, धनहा, पुरैना घाट, सठियवां, मधुरिया आदि के ग्राम प्रधानों ने अपने-अपने ग्रामों में बुद्ध कालीन स्थल की ऐतिहासिकता के बारे में जिलाधिकारी को बताया। जिलाधिकारी ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि बैठक का मुख्य उद्देश्य संबंधित स्थल के साथ-साथ क्षेत्र का विकास है। उन्होंने बैठक में ग्राम सचिवों को निर्देशित किया कि ग्रामों से प्राप्त ऐतिहासिक चीजें जो कि महात्मा बुद्ध से संबंधित है उसकी जानकारियां एकत्र करावे।

महात्मा बुद्ध से संदर्भित मार्ग से जुड़ी हुए जानकारियों को सूचनापट्ट के माध्यम से अवगत कराया जाए। इस क्रम में गांव के बुजुर्ग लोगों के ज्ञान व अनुभव को भी साझा किया जाए। उन्होंने कहा कि यह जनपद कुशीनगर के लिए सौभाग्य की बात है कि ऐतिहासिक स्थल के रूप में पुरातात्विक चीजें प्राप्त हुई है। उन्होंने ग्राम प्रधानों से अपील की कि पर्यटन व ऐतिहासिकता के दृष्टिकोण से ऐतिहासिक स्थलों पर छोटे-मोटे विकास के कार्य खुद भी करावें। जनपद में पर्यटन को बढ़ावा दिया जाए। इस क्रम में पर्यटन विभाग की टीम भी संबंधित स्थल का निरीक्षण करे। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी गुंजन द्विवेदी, अपर जिलाधिकारी न्यायिक उपमा पांडेय, उप जिलाधिकारी कल्पना जायसवाल, अपर मुख्य अधिकारी विंध्याचल कुशवाहा, तहसीलदार मांधाता सिंह व अन्य संबंधित लोग उपस्थित रहे।