दतिया मध्यप्रदेश राजनीति

कांग्रेस के प्रमुख नेताओं में आपसी समन्वय के लिए आरएसएस जैसा कोई संगठन नहीं- घनश्याम सिंह, पूर्व विधायक

सेंवढ़ा के रंगमहल गार्डन में हुई कांग्रेस की आभार बैठक

दतिया से नगर संवाददाता विकास वर्मा की रिपोर्ट दतिया कांग्रेस में आरएसएस जैसा कोई संगठन नहीं जो पार्टी हित में निष्पक्ष कार्य कर प्रमुख नेताओं में आपसी समन्वय करा सके। चुनाव के समय जो पर्यवेक्षक भेजे जाते है उनकी भूमिका चुनाव के समय तक ही रहती हैं। इसके अलावा पीसीसी द्वारा जिलों में नियुक्त किए जाने वाले संगठन मंत्री भी निष्पक्ष कार्य नहीं करते, अधिकृत प्रत्याशी के विरुद्ध कार्य करने वालों पर अनुशासनात्मक कार्यवाही नहीं होने से गुटबाजी को हवा मिलती है और खामियाजा पार्टी प्रत्याशी को चुनाव में उठाना पड़ता है।

यह विचार सेंवढ़ा विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक घनश्याम सिंह ने शनिवार को सेंवढ़ा के रंगमहल गार्डन में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित कर व्यक्त किए। वह हाल ही में सम्पन्न हुए लोकसभा चुनाव में सेंवढ़ा विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी फूलसिंह बरैया को कांग्रेस कार्यकर्ताओं की कड़ी मेहनत से मिली 4967 मतों की बढ़त के लिए कांग्रेस कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि पार्टी के शीर्ष नेतृत्व को असली और फसली कार्यकर्ताओं की जानकारी जुटाकर संगठन हित में समर्पित कार्यकर्ताओं को महत्व देना होगा। उन्होंने सेंवढ़ा विधानसभा के सभी कार्यकर्ताओं की लोकसभा चुनाव में भीषण गर्मी में भी पार्टी प्रत्याशी को अपने क्षेत्र से विजय श्री दिलाने पर सराहना की।

About The Author

Related posts