उज्जैन। आरक्षण मुर्दाबाद नहीं कहने पर जातिवादी राजपूत बदमाशों ने दलित युवक के साथ की मारपीट, पुलिस ने नहीं लिखीं एफआईआर।

उज्जैन मध्यप्रदेश। कबीर मिशन समाचार

उज्जैन। उन्हेल थाना क्षेत्र के गांव परोलिया पदमा में विजय सूर्यवंशी ने बताया की में दूध डेरी पर दूध दे रहा था तो गांव के सरपंच राहुल राजपूत ने मेरे साथ गाली गलौज की। जिसके बाद मेरे घर आने के थोड़ी देर बाद मेरे दोस्त का फोन आया और कहा कि तू अभी मेरे साथ करणी सेना के आंदोलन में भोपाल चल तेरा रहने खाने का और आने-जाने का बंदोबस्त सब हो जाएगा, मैने कुछ भी जवाब नहीं दिया।

थोड़ी देर बाद राहुल राजपूत कुछ लड़कों को साथ ले कर मेरे घर आया और बिना कुछ बोले मेरे साथ मारपीट करने लगा। मैंने दूध डेयरी पर भी उसे कुछ नहीं कहा मैं बस आरक्षण के समर्थन में 12 फरवरी को होने वाले भोपाल आंदोलन की अपने सामाजिक लोगों से चर्चा कर रहा था। मेरे साथ मारपीट करने के बाद धमकी दी की अगर आंदोलन के विषय में गांव में चर्चा की तो जान से मार देगे, मुझसे जबरदस्ती आरक्षण व संविधान मुर्दाबाद के नारे भी लगवाए।

और कहा कि मारपीट के बारे में गांव में किसी से कोई बात कि या थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई तो तेरे हाथ पैर काट दूंगा और तुझे जान से मार दूंगा तू जानता नहीं है मुझे मैं राजपूत हूं और तू हमारे खिलाफ होगा तो तेरा काम तमाम कर दिया जाएगा। मैं 5 घंटे से थाने पर बैठा हूं लेकिन अभी तक ना तो कोई कार्रवाई की और ना ही मेरी एफ आई आर दर्ज की है। मैं चाहता हूं कि मेरे साथ न्याय किया जाए।