मालवीय समाज सामूहिक विवाह सम्मेलन में 17 जोड़े बंधें परिणय सूत्र में

ऐतिहासिक मालवीय समाज विवाह सम्मेलन में
उमड़ा जनसैलाब

नीमच।अखिल भारतीय मालवीय, मेहर (बलाई) समाज का 17 वां सामूहिक विवाह सम्मेलन में 17 जोड़े का विवाह 22 जनवरी रविवार को भादवामाता धर्मशाला में ऐतिहासिक जनसैलाब की उपस्थिति में आयोजित हुआ। इस अवसर पर मध्य प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक रामलाल मालवीय ने कहा कि नवविवाहित दंपतियों को जीवन में धैर्य के साथ आगे बढ़ना होगा तभी उनका जीवन सफलता की ओर अग्रसर होगा। सास बहू को अपनी बेटी समझे तो घर स्वर्ग बन सकता है। बेटी लक्ष्मी का स्वरूप होती है वह दो परिवारों का नाम रोशन करती है।


राष्ट्रीय उपाध्यक्ष धर्मराज प्रधान ने कहा कि दहेज लेना और देना दोनों पाप है। दहेज की बलिवेदी पर कई मातृ शक्तियों ने अपना जीवन समाप्त कर दिया है इसलिए दहेज एक सामाजिक बुराई है इससे बचना चाहिए।आज समाज शिक्षित होकर हर क्षेत्र में अपना विकास कर रहा है। समाज संगठित रहेगा तो समाज का विकास होगा।
आलोट पुर्व विधायक जितेंद्र गहलोत ने आज के दौर में सामूहिक विवाह सम्मेलन को महती आवश्यकता बताते हुए परिवार जनों के तन, मन और धन के साथ समय की बचत की बात कही।
अखिल भारतीय बलाई महासंघ राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज परमार इंदौर, अखिल भारतीय बलाई महासभा प्रदेश अध्यक्ष गोपाल सिंह इंजीनियर आष्टा,पुर्व मंत्री बाबूलाल मालवीय तराना, विधायक दिलीप सिंह परिहार नीमच,पुर्व विधायक नन्दकिशोर पटेल, मंदसौर जनपद पंचायत पूर्व अध्यक्ष शांतिलाल मालवीय आदी अतिथियों ने वर वधु को शुभ आशीर्वाद प्रदान करते हुए सुखमय दाम्पत्य जीवन की शुभकामनाएं दी।


सम्मेलन के मुख्य अतिथि विधायक रामलाल मालवीय ने कहा कि कन्याओं का विवाह एक भाई और परिवार की तरह किया। गृहस्थी के सामान सजाने का प्रयास किया गया है।
खर्चीली विवाह की शादियों से बचने के लिए सामूहिक विवाह सम्मेलन मील का पत्थर साबित होगा।
विधायक रामलाल मालवीय ने कहा कि लगातार 17 वर्षों से मंदसौर, नीमच जिले में सामूहिक विवाह सम्मेलन का ऐतिहासिक और सफल आयोजन पर संयोजक अशोक खिंची पिपलिया मंडी और अध्यक्ष निर्भयराम सोलंकी प्रतापपुरा, सचिव राधेश्याम सियार बरडिया के साथ भादवामाताजी सम्मेलन के सभी सदस्यों सहयोगी समाज जन बधाई के पात्र हैं।
इस अवसर पर अखिल भारतीय बलाई महासंघ राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज परमार इंदौर, अखिल भारतीय बलाई महासभा प्रदेश अध्यक्ष गोपाल सिंह इंजीनियर आष्टा, पुर्व केबैनेट मंत्री बाबूलाल मालवीय तराना, विधायक दिलीप सिंह परिहार, आलोट पुर्व विधायक जितेंद्र गहलोत, नीमच पुर्व विधायक नन्दकिशोर पटेल, अखिल भारतीय बलाई महासभा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष धर्मराज प्रधान इंदौर, मंदसौर जनपद पंचायत पूर्व अध्यक्ष शांतिलाल मालवीय, पुर्व जिला पंचायत सदस्य अशोक खिंची, दीनदयाल सावनेर भोपाल, महिला संगठन प्रदेश अध्यक्ष सीमा चौहान देवास आदि ने भी कार्यक्रम में उपस्थित समाज जनों को संबोधित करते हुए सामूहिक विवाह सम्मेलन को आज के युग में प्रमुख आवश्यकता बताते हुए कहां की सामूहिक विवाह सम्मेलन से तन,मन, धन के साथ समय और श्रम की बचत होती है।
सम्मेलन से पूर्व बींद बिननी को विभिन्न बग्गियों में विराजित कर बिंदोली क्षेत्र के प्रमुख मार्गो से निकाली गई। मार्ग में स्थान स्थान पर सर्व समाज जनों द्वारा पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया।
भादवा माता सामूहिक विवाह सम्मेलन में अपना आर्थिक सहयोग एवं महत्वपूर्ण अपनी सेवाएं प्रदान करने वाले समाज जनों का समिति द्वारा सम्मान किया गया।


सम्मेलन में मुख्य अतिथि के रूप में मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ विधायक रामलाल मालवीय, नीमच विधायक दिलीपसिंह परिहार,अखिल भारतीय बलाई महासंघ राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज परमार इंदौर, अखिल भारतीय बलाई महासभा प्रदेश अध्यक्ष गोपालसिंह इंजिनियर अध्यक्ष जिला पंचायत सीहोर,आलोट पूर्व विधायक जितेंद्र गहलोत, तराना पूर्व विधायक बाबूलाल मालवीय नीमच पूर्व विधायक नन्दकिशोर पटेल, महिला संगठन प्रदेश अध्यक्ष सीमा चौहान देवास, लता मालवीय इंदौर,माता मालवीय उज्जैन, अखिल भारतीय पोरवाल समाज महासभा राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश पोरवाल,प्रतापगढ़ नायब तहसीलदार कचरूलाल मालवीय, अखिल भारतीय बलाई समाज महासभा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष धर्मराज प्रधान इंदौर, दीनदयाल सावनेर भोपाल, मंदसौर जनपद पंचायत पूर्व अध्यक्ष शांतिलाल मालवीय, सांसद प्रतिनिधि महेश गुर्जर,जिला जनसंपर्क अधिकारी जगदीश मालवीय नीमच, मंदसौर जनपद पंचायत सदस्य डॉक्टर मुकेश बामनिया तुमडावदा, पूर्व जिला पंचायत सदस्य अशोक खिंची पिपलिया मंडी सहित अनेक पंच, सरपंच,पार्षद, जनपद पंचायत सदस्यगण, भादवामाता सरपंच मिठू बाई सुरावत,जवासा सरपंच लाला सेन,सावन सरपंच जितेन्द्र माली, भादवामाता मंडल अध्यक्ष अर्जुनसिंह सिसौदिया, गणमान्य नागरिक जन,जनप्रतिनिधिगणों के साथ मध्य प्रदेश एवं राजस्थान के समाजजनों ने शामिल होकर वर-वधु को शुभ आशीर्वाद प्रदान किया।
सम्मेलन में उत्कृष्ट सेवा कार्य करने वाले व्यक्ति, वर-वधु के परिजनों के साथ, इक्कावन सौ रुपए से अधिक सहयोग राशि सम्मेलन में प्रदान करने वाले समाज बन्धुओं को अतिथियों द्वारा समाज रत्न भामाशाह गौरव से सम्मानित किया गया।
भादवामाता सामूहिक विवाह सम्मेलन संयोजक अशोक खिंची पिपलिया मंडी, अध्यक्ष निर्भयराम सोलंकी प्रतापपुरा, सचिव राधेश्याम सियार बरडिया, उपाध्यक्ष अर्जुनसिंह मेहर सुवासरा मंडी, कोषाध्यक्ष कैलाश मालवीय प्रतापगढ़, सहसंयोजक जगदीश मालवीय ,उपाध्यक्ष गोविंद बिलोदिया कुकड़ेश्वर, प्रकाश मालवीय जवासा, मालवीय बलाई समाज नीमच जिला अध्यक्ष गुड्डू भाई मालवीय, सचिव झमकलाल परिहार बरखेड़ा देव, मांगीलाल पंचोली, कंवरलाल लाला पंचोली,भादवामाता, रामचंद्र मालवीय गांधीनगर, पुर्व सरपंच मथुरालाल मालवीय, महासचिव माखनलाल पंचोली, धर्मशाला पुर्व उपाध्यक्ष भेरुपसाद परमार मनासा, महासचिव प्रहलाद परिहार नारायणगढ़, सहसचिव मुकेश बामनिया जवासा,सुरेश चौहान जग्गाखेड़ी, मिडिया प्रभारी रामरतन आटेला मंदसौर, प्रभलाल सिहार बरडिया, जेतराम मालवीय, गोविंद बिलोदिया, पुष्कर मालवीय, रविन्द्र मालवीय सावन, डमरलाल बामनिया, राधेश्याम मालवीय, गोविंद मालवीय, कन्हैयालाल मालवीय, तुलसी राम मालवीय,राकेश मालवीय जवासा,संगठन मंत्री कंवरलाल पंचोली भादवामाता, दौलतराम मालवीय,अशोक मालवीय लुनाहेडा,कृष्णा परिहार सुदवास, प्रभुलाल सिहार,आदि अनेक समाज जनों ने सम्मेलन में सहभागिता निभाई।
मेहमानों,बारातियों के विश्राम एवं भोजनशाला की व्यवस्था पाटीदार समाज धर्मशाला भादवामाता में की गई।
समाज जनों को भोजन व्यवस्था, टेंट व्यवस्था,वाहन पार्किंग, जल व्यवस्था, शोभायात्रा, स्वास्थ्य व्यवस्था,वेदी व्यवस्था,स्वागत, मंच व्यवस्था आदि अनेक विभिन्न समितियों कार्यकर्ताओं ने अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
मालवीय समाज सम्मेलन में 17 नवदम्पत्ति जोड़े का गायत्री परिवार शांतिकुंज नीमच के नारायण धाकड़, रमेश प्रजापति, अशोक धाकड़, गुड्डा भैया , एवं 13 मातृशक्ति आदि कार्यकर्ताओं द्वारा विधिवत वैदिक मंत्रोच्चार एवं दहेज नहीं लेने देने के संकल्प पाणिग्रहण विवाह संस्कार सम्पन्न करवाया गया।
सम्मेलन अध्यक्ष निर्भयराम सोलंकी प्रतापपुरा, सचिव राधेश्याम सिहार बरडिया, सहसचिव मुकेश बामनिया जवासा,नीमच जिला अध्यक्ष गुड्डू भाई मालवीय नीमच, उपाध्यक्ष जगदीश मालवीय लुनाहेडा, गोविंद बिलोदिया कुकड़ेश्वर, अर्जुनसिंह मेहर सुवासरा, संरक्षक नारायण बोरना सुवासरा मंडी, संयोजक अशोक खिंची पिपलिया मंडी, प्रवक्ता अशोक मालवीय लुनाहेडा, रामरतन आटेला मंदसौर, महासचिव प्रहलाद परिहार नारायणगढ़ के द्वारा सम्मेलन में उल्लेखनीय योगदान प्रदान किया।
सम्मेलन में सहयोग प्रदान करने वाले समाज जनों का सम्मान किया गया।
बींद बिननी को विवाह में सोने का मंगलसूत्र, कान, नाक का कांटा,पायजब अंगूठी ,बिछुड़ी ,पलंग, परिधान श्रृंगार सामग्री बर्तन एवं आयोजन समिति के द्वारा धार्मिक साहित्य सहित विभिन्न सामग्री प्रदान की गई। सांय 5 बजे बीन बीनणी को
आशीर्वाद प्रदान कर विदाई सम्मान पूर्वक दी गई।
कार्यक्रम का संचालन गोवर्धन लाल राठौर, उपाध्यक्ष अर्जुन सिंह मेहर ने किया तथा आभार अध्यक्ष निर्भयराम सोलंकी ने व्यक्त किया।
मर्यादा के संकल्प के साथ दांपत्य जीवन का लिया संकल्प
………
गायत्री शक्तिपीठ के कार्यकर्ताओं द्वारा परिणाम सूत्र में बनने वाले बींद बिननी को परिवार की मर्यादा का पालन करते हुए वैदिक मंत्रोचार के साथ फुहड़ता और फैशन का त्याग करने का संकल्प दिलाया और उत्तम ग्रहणी बनकर परिवार का नशा मुक्ति के त्याग, मृत्यु भोज खर्चीली शादी दहेज प्रथा आदि के त्याग के साथ कर्तव्य निष्ठा के साथ पालन करने का संकल्प दिलाया गया। और देशभक्ति गीतों की प्रस्तुति भी दी गई।