सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों के निराकरण में प्रगति लाएं समस्त भिंड

समय सीमा पत्रों की साप्ताहिक समीक्षा बैठक संपन्न

कबीर मिशन समाचार।

भिण्ड कलेक्टर डॉ सतीश कुमार एस की अध्यक्षता में साप्ताहिक समय-सीमा पत्रों की समीक्षा बैठक कलेक्टर कार्यालय भिण्ड के सभागार में आयोजित की गयी। कलेक्टर ने कहा कि समस्त विभाग सीएम हैल्पलाईन में 50 दिवस से अधिक लंबित शिकायतों के निराकरण प्राथमिकता से करें। बैठक में अपर कलेक्टर श्री जयप्रकाश सैयाम, सीईओ जिला पंचायत श्री जेके जैन, डिप्टी कलेक्टर श्री पराग जैन, एसडीएम भिण्ड-अटेर श्री उदय सिंह सिकरवार, एसडीएम मेहगांव श्री वरुण अवस्थी सहित अन्य विभागों के अधिकारी तथा कई अधिकारी वर्चुअल रूप से उपस्थित रहे।

कलेक्टर डॉ सतीश कुमार एस ने सीएम हैल्पलाईन की लंबित शिकायतों की विभागवार समीक्षा करते हुए पाया कि कुछ विभागों के द्वारा अच्छा कार्य किया गया है। उनसे कहा कि आप ऐसे ही सीएम हैल्पलाईन की लंबित शिकायतों का निराकरण करते रहें ताकि जिले की ग्रेडिंग में कमी न आए। उन्होंने कहा कि जिन विभागों के निराकरण की प्रगति संतुष्टि प्रतिशत से कम है वो सभी विभाग शिकायतों का संतुष्टि पूर्वक निराकरण कर प्रगति लाएं। अन्यथा उनके विरुद्ध कार्यवाही की जायेगी।

उन्होंने समीक्षा के दौरान पाया कि जो स्थिति शिकायतों के निराकरण की पूर्व में थी वही आज है इससे स्पष्ट होता है कि संबंधित विभागों द्वारा निराकरण में कोई रूचि नहीं ली गई है। उन्होंने कहा कि सभी विभाग सीएम हेल्पलाइन में संतुष्टि पूर्वक निराकरण एवं 50 दिवस से ऊपर की शिकायतों के निराकरण ने फोकस करें। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि शिकायतों का निराकरण संतुष्टि पूर्वक किया जाए, बिना कार्यवाही के कोई भी शिकायत लम्बित नहीं रहे। जो भी जवाब दर्ज करें, वह गुणवत्तापूर्ण हो, इसका विशेष ध्यान रखें। मांग आधारित शिकायतें जिनकी पूर्ति की जाना संभव नहीं है उनको फोर्स क्लोज की करवाई की जाए।

कलेक्टर ने निर्देश दिए कि 50 दिवस से ऊपर की शिकायतों को प्राथमिकता से निराकरण करें, ऐसी शिकायतें जिनका जिला स्तर पर निराकरण संभव नहीं है, तो वरिष्ठ कार्यालयों से मार्गदर्शन प्राप्त कर शिकायतों का निराकरण किया जाए। उन्होंने मतदाता सूची पुनरीक्षण के कार्य की की समीक्षा कर कहा कि मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्य की सभी गतिविधियां समय-सीमा में हो। सभी पात्र व्यक्तियों के नाम मतदाता सूची में दर्ज करवाएं, बीएलओ प्रतिदिन मतदान केन्द्रों पर उपस्थित होकर दावे-आपत्ति प्राप्त करें। उन्होंने फॉर्म 6 एवं 7 के संबंध में जानकारी ली।

उन्होंने स्वच्छ सर्वेक्षण 2023 अंतर्गत सभी नगरीय निकायों की समीक्षा की। उन्होंने समस्त सीएमओ को निर्देशित कर कहा कि जिन निकाय द्वारा फटका मशीन और बेलन मशीन अभी तक नहीं खरीदी गई है, दोनों मशीन खरीद लें। उन्होंने सेप्टिक टैंक की जिओ टैगिंग के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने अटल प्रगतिपथ की समीक्षा में कुल भूमि, शासकीय भूमि एवं निजी भूमि कितनी आ रही है के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने सभी विभागों को निर्देशित कर कहा है कि सभी अपने विभाग अंतर्गत भूमिपूजन एवं शिलान्यास की जानकारी उपलब्ध कराएं।

कलेक्टर ने बढ़ती सर्दी के दृष्टिगत समस्त एसडीएम, एसडीओ, सीएमओ एवं सीईओ जनपद को निर्देशित कर कहा है कि सभी नगर पालिकाध् नगर परिषद एवं ब्लॉक स्तर पर सर्दी से बचाव के पुख्ता इंतजाम किए जाएं। उन्होंने कहा कि सभी एसडीएम, एसडीओ, सीएमओ एवं सीईओ जनपद के साथ जाकर बेसहारा लोगों को कंबल वितरित करें। उन्होंने आम जनमानस एवं आने-जाने वाले यात्रियों की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए सर्दी से बचाव के लिए नगर के मुख्य चौराहों, रेलवे स्टेशन के बाहर एवं बस स्टैंड में शीघ्र अलाव की व्यवस्था सुनिश्चित करने हेतु निर्देशित किया।

कलेक्टर डॉ सतीश कुमार एस ने बैठक में ऊर्जा विभाग, खाद्य विभाग, पीएचई, पीडब्ल्यूडी, शिक्षा, महिला एवं बाल विकास, वित्त विभाग सहित अन्य विभागों की समीक्षा कर कहा कि उनके यहां जितने भी सीएम हैल्पलाईन के प्रकरण हैं उनको तत्परता से निराकरण करना सुनिश्चित करें।
कलेक्टर ने बढ़ी हुई सर्दी के दृष्टिगत सभी एसडीएम, राज्यो, सीएमओ एवं सीईओ जनपद को निर्देशित कर कहा है कि सभी नगर निगम नगर परिषद एवं ब्लॉक स्तर पर सर्दी से बचाव केख पुता अधिकार किए गए हैं। उन्होंने कहा कि सभी एसडीएम, राज्यो, सीएमओ एवं सीईओ जनपद के साथ जाकर बेसहारा लोगों को कंबल दें। उन्होंने आम जनमानस एवं आने-जाने वाले यात्रियों की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए सर्दी से बचाव के लिए नगर के मुख्य चौराहों, रेलवे स्टेशन के बाहर एवं बस स्टैंड में शीघ्र अलाव की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। कलेक्टर डॉ सतीश कुमार एस ने बैठक में विद्युत विभाग, खाद्य विभाग, पीएचई, पीडीडब्ल्यू, शिक्षा, महिला एवं बाल विकास, वित्त विभाग सहित अन्य योजनाओं की समीक्षा की, जिसमें कहा गया है कि उनके यहां भी मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के प्रकरण उनकी तत्परता से समाधान की मांग कर रहे हैं करें।