उज्जैन मध्यप्रदेश

आधी रात को दलित बस्ती पर दबंगो का हमला

उज्जैन पुलिस अधीक्षक कार्यालय का किया घेराव

9 फरवरी को उज्जैन जिले के ग्राम मुंडला सुलेमान में रविदास समाज की महिलाओं ने दबंगो के खेत पर काम करने से मना कर दिया ।
इस बात से नाराज दबंगो ने दलित परिवार के घर जाकर अश्लील गाली देते हुए जातिसूचक शब्दों से अपमानित किया । इस घटना की शिकायत कल रात थाना नीलगंगा उज्जैन को की।
गांव के दबंगो ने थाने पर पुलिस के सामने दलितों को मारने की धमकी दी । परन्तु पुलिस ने तत्काल कोई कार्यवाही न करते हुए। समझाइश देकर इति श्री कर ली।

देर रात लगभग 1.30 बजे दबंगो के समूह ने रविदास मोहल्ले पर जानलेवा हमला किया।
जो भी हाथ में आया उसे बेरहमी से पीटा ।
निर्दय बेशर्म दबंगों ने महिला और बच्चों को भी नही छोड़ा।।
इस हमले में महिला और पुरुष समेत कई लोग घायल हुए।।
रविदास समाज के पीड़ित मजदूर परिवारों ने खेतों में छुपकर अपनी जान बचाई।

इस घटना की सूचना आज सुबह पीड़ित परिवार के सदस्यों ने अखिल भारतीय बलाई महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज परमार को दी ।

परमार ने तत्काल अपने पदाधिकारियों के साथ उज्जैन की ओर रुख किया।
और हमले में घायल पीड़ित लोगों को लेकर पुलिस अधीक्षक से मिलने पहुंचे ।
एसपी सत्येन्द्र कुमार शुक्ल को घटना से अवगत कराया। और ज्ञापन प्रेषित कर मांग की।
पीड़ित लोगों को सुरक्षा मुहैया कराई जाए और अरोपियो की जल्द से जल्द गिरफ्तारी कर ऐसे सामंतवादी विचारधारा वाले समाजकंटको पर कड़ी कार्यवाही की जाय । साथ ही
मुख्य आरोपियों के मकान जमींदोज किए जाएं।।

पुलिस अधीक्षक ने तत्काल ग्राम सुलेमान मुंडला में पुलिस बल तैनात कर दिया और आश्वास्त किया कि रविदास समाज के मजदूर परिवारों की सुरक्षा में कोई कोताही नहीं बरती जायेगी । साथ ही आरोपीयों की 24 घण्टे में गिरफ़्तारी होगी।

इस अवसर पर मुख्य रूप से रोहित जी आंजना, दिलीप जी वर्मा, सचिन सिंदाल, जगमोहन मालवीय, तूफान मालवीय, विनोद चौहान, महेश परमार, सहित सैकड़ों की संख्या में समाजजन मौजुद थे ।

About The Author

Related posts