ग्वालियर मध्यप्रदेश राजनीति समाज

ग्वालियर गुर्जर जेल भरो आंदोलन, भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद, अतुल प्रधान, रवीन्द्र भाटी सहित 50 लोग गिरफ्तार

कबीर मिशन समाचार। बंटी गर्ग पत्रकार

ग्वालियर :- मध्यप्रदेश के ग्वालियर जिले में हुए गुर्जर समाज के आंदोलन के बाद उनके समर्थन में ग्वालियर के लिए कूच करने जा रहे भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर रावण को सराय छोला थाना पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। मौके पर मुरैना पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह चौहान और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अरविंद सिंह ठाकुर समेत तमाम पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर और बाकी के नेताओं को समझाने में लगे रहे। आपको बता दे कि ग्वालियर में गुर्जर ओबीसी और अन्य समुदाय द्वारा कथित रूप से किए जा रहे जेल भरो आंदोलन में शामिल होने के लिए आ रहे भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर रावण को उनके अन्य साथियों के साथ मुरैना में ही हिरासत में ले लिया गया है।

वह ग्वालियर में आंदोलन में शामिल होने के लिए आ रहे थे। चंद्रशेखर रावण को मध्यप्रदेश-राजस्थान की बॉर्डर यानी चंबल की राजघाट पर हिरासत में ले लिया है। अभी मुरैना और ग्वालियर पुलिस अधीक्षक और कलेक्टर वार्तालाप किए। इस आंदोलन के विरोध में पुलिस प्रशासन द्वारा गुरुवार सुबह से ही कड़ी मुस्तादी की जा रही थी।

धार। भाजपा व कांग्रेस के उम्मीदवारों में भारी बेचैनी, दिल की धड़कने बढ़ी

ग्वालियर की सीमाओं से लगे हुए अन्य जिलों से भी संपर्क साधा जा रहा था। तभी पुलिस को भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर रावण के मुरैना की तरफ से आने की सूचना मिली। इस पर पुलिस ने मुरैना पुलिस से सूचना का आदान-प्रदान करते हुए चंद्रशेखर रावण, रवींद्र भाटी, अतुल प्रधान को चंबल नदी के पास से ही हिरासत में ले लिया है।

मुरैना पुलिस ने इन्हें सराय छोला थाना क्षेत्र के अल्लाबेली चौकी पर बने चेकिंग पॉइंट पर ही हिरासत में लिया था और उनसे पूछताछ की जा रही है। चंबल के राजघाट पर ग्वालियर के पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल और ग्वालियर कलेक्टर अक्षय कुमार भी मौके पर पहुंच गए हैं। इसके बाद चंद्रशेखर रावण से मुरैना और ग्वालियर का पुलिस प्रशासन बातचीत कर रहा है। लेकिन बताया जा रहा है कि चंद्रशेखर रावण ग्वालियर में आने के लिए अड़े हुए हैं। मौके पर 1000 की संख्या में पुलिस बल मौजूद है। अगर चंद्रशेखर रावण ग्वालियर में आने की जिद करते हैं तो प्रशासन उनकी गिरफ्तारी कर सकता है।

इन्हें भी पढ़े :

पूर्व मंत्री अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं गोहद विधानसभा प्रत्याशी लालसिंह आर्य ने मालनपुर क्षेत्र में घर-घर जाकर किया जनसंपर्क

Model Code of Conduct : आचार सहिंता नियम | कब, क्यों और क्या निगम होंगे | जानें आचार सहिंता से जुड़े सवाल

प्रेम प्रसंग के चलते 24 वर्षीय विवाहित महिला की तलवार से गला रेतकर की हत्या, पुलिस जुटी जांच में

महिला ऑफिसर निशा बांगरे से बदसलूकी क्यो ? उनके फ़टे कपड़ो और बाबा साहब की तस्वीर का कौन है जिम्मेदार ?

About The Author

Related posts