सीहोर

जावर। साल की पहली बारिश में ही गांव का हल बेहाल गांव में कीचड़ ही कीचड़

कबीर मिशन समाचार जिला सीहोर।
जावर से संजय सोलंकी की रिपोर्ट।
जावर=सिहोर जिले की जावर तहसील के ग्राम बीसूखेड़ी का हाल कीचड़ के कारण बेहाल है,ग्राम पंचायत कजलास के ग्राम बीसूखेड़ी जो की सीहोर जिले का सबसे पहला और आखरी गांव है जहा विकास के नाम पर कुछ नही है सिर्फ विकास है तो कीचड़,कच्चे मकान, और गंदगी ही गंदगी,ऐसा इसलिए कहा जा सकता है क्योंकि अगर आज भी गांव में देखा जाए तो 60 परसेंट से ऊपर के कच्चे मकान हे और लोग कच्चे मकान में रहने को मजबूर हैं, साल की पहली बारिश में ही गांव के पूरे रास्ते पर कीचड़ ही कीचड़ देखने को मिल रहा है।

जहां ग्रामीण जन इन हालातो से परेशान हैं तो वही जनप्रतिनिधि गांव के तरफ ध्यान देना उचित नहीं समझते देखा जाए जो प्रधानमंत्री सड़क दयाराम जी के मकान से लेकर गांव का मुख्य मार्ग चालू हो जाता है जो की रमेश चंद्र टेलर के मकान तक मुख्य मार्ग है और इसी मुख्य मार्ग में कीचड़ के अलावा कुछ नही यह तक की रास्ते के दोनो तरफ सही से नाली न होने के कारण बारिश का पानी सड़क पर इखट्ठा हो जाता है जिससे कही वहां दुर्घटना के शिकार हो चुके है।

ग्रामीणों का कहना है की हम पहले भी हमारे जनप्रतिनिधि को इस समस्या के बारे में अवगत करा दिया है मगर जनप्रतिनिधि हमारे गांव के तरफ ध्यान नहीं दे रहे हैं वही ग्रामीणों ने कहा कि चुनाव के वक्त नेता लोग गांव में आते है और बड़े बड़े वादे करते है और जितने के बाद कभी नजर नहीं आते क्योंकि उनको सिर्फ वोट से मतलब है अगर जल्द ही हमारे गांव की समस्या हल नहीं किया गया तो हम सभी ग्रामवासी तहसीलदार महोदय को ज्ञापन सौंपकर हमारे गांव की समस्या से अवगत कराएंगे ।

About The Author

Related posts