खरगोन। 18 माह के बच्चें की सांस नली में फंसा विक्स का ढक्कन, डॉक्टरो ने ऑपरेशन कर निकाला।

कबीर मिशन समाचार खरगोन जिला प्रतिनिधि विशाल भमोरिया

खरगोन 13 जनवरी 23/थोड़ी सी लापरवाही और नजरअंदाजी से किसी की जान भी जा सकती है। शुक्रवार को एक ऐसा ही लापरवाही वाला मामला जिला अस्पताल में आया। लेकिन डॉक्टरों की सजगता के साथ परिजनों की तत्परता के कारण सही समय पर बच्चा अस्पताल पहुँच पाया।

शिशु रोग विशेषज्ञ ड़ॉ. अनुपम अत्रे ने बताया कि शुक्रवार को करीब 11 बजे जिला अस्पताल में पिपलझोपा क्षेत्र के धरमपुरी गांव के 18 माह के बच्चें को बड़ी चिंताजनक स्थिति में लाया गया। आर्तिक मुकेश की सांस नली में विक्स का ढक्कन फंस गया था। बेहोशी की हालत में लाया गया था।

बच्चें की नाजुक स्थिति को देखते हुए डॉ. आलोक गुप्ता, डॉ चेतन चौहान और डॉ. गौरव पाटीदार ने तुरंत ऑपरेशन करना उचित समझा। सांस नली में फंसे ढक्कन को निकालने के लिये फोरसेफ की सहायता से ढक्कन निकाला गया। बच्चें को अनेशथेसिया देकर ऑपरेट किया गया। डॉ. अत्रे ने बताया कि बच्चें को अस्पताल लाने में 10 मिनट भी देरी हो जाती घातक हो जाता। अभी बच्चें को 48 घंटे के लिए ऑब्जर्वेशन में रखा हुआ है।