भोपाल मध्यप्रदेश राजनीति रोजगार शिक्षा

30 प्रतिशत से कम रिजल्ट देने वाले 15000 अतिथि शिक्षको की नौकरी खतरे में, इस सत्र में नही मिलेगी नियुक्ति, नेता प्रतिपक्ष ने पूछा नियमित शिक्षको पर ऐसी सख्ती का नियम नही।

भोपाल। मध्यप्रदेश में अब अतिथि शिक्षकों को बड़ा झटका लग सकता है। शिक्षा विभाग की तरफ से एक पत्र जारी किया गया है। जिसके बाद से ही अतिथि शिक्षकों की टेंशन बढ़ गई है। इस पत्र में 30 फीसदी से कम रिजल्ट लाने वाले अतिथि शिक्षकों को नौकरी में न रखने की बात कही गई है। जिसको लेकर अतिथि शिक्षकों में खलबली मच गई है एमपी बोर्ड के रिजल्ट जारी किए गए थे। इस रिजल्ट में पास करने वाले बच्चों के परसेंट इस बार ज्यादा अच्छा नहीं रहा है।

इस रिजल्ट 70 परसेंट भी पार नहीं हो पाया है। दसवीं और बारहवीं का रिजल्ट 60 से 65 परसेंट के आसपास रहा है। जिसके बाद से कई सवाल उठने शुरु हो गए थे। एमपी बोर्ड 2024 का रिजल्ट आने के बाद जांच की गई थी। जिसमें अब खराब रिजल्ट का जिम्मेदार अतिथि शिक्षकों को बनाया गया है। खराब रिजल्ट आने के बाद अब अतिथि शिक्षकों की टेंशन बढ़ गई है। इधर अनुमान लगाया जा रहा 30 फीसदी से कम अंक पाने वाले शिक्षकों को नौकरी से बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा। ऐसे करीब 15 हजार अतिथि शिक्षक हैं, जिन्हें हाथ से नौकरी गंवानी पड़ सकती है।

About The Author

Related posts